गोरधन पूजा व अन्नकूट दर्शन के लिए सैलाब उमड़ा






बीकानेर, 14 फरवरी (CK NEWS/CHHOTIKASHI)। श्रीगोकुल चन्द्रमाजी पुष्टिमार्गीय न्यास, कामां की ओर से संचालित रतन बिहारी पार्क के श्री राज रतन बिहारी जी मंदिर मंे रविवार को गोरधन पूजा व अन्नकूट का विशेष मनोरथ हुआ। दोनों मनोरथों का दर्शन करने के लिए श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ पड़ा। पंचम पीठाधीश्वर जगद्गुरु गोस्वामी वल्लभाचार्यजी महाराजश्री ने बताया कि पुष्टिमार्गी सभी मंदिरों में सालभर के कार्यक्रमों व मनोरथों की शुरूआत दीपोत्सव व अन्नकूट दर्शन से होती है। पुष्टिमार्गी परम्परा में अन्नकूट महोत्सव का विशेष महत्व है। इस साल दीपावली पर करोना के कहर के कारण कार्यक्रम सीमित किए गए। उन्होंने बताया कि गोरर्धन पर्वत उठाकर भगवानश्री कृष्ण ने भक्तों की रक्षा की। ब्रजवासियों ने भगवान के विविध व्यंजनों का भोग लगाया तथा गोवर्धन पर्वत और गौमाता की पूजा की। तब से यह परम्परा सभी पुष्टिमार्गी व सहित विभिन्न मंदिरों में चल रही है। बीकानेर के आचार्यश्री गोस्वामी बिठलनाथजी ’’ब्रजांग बाबा’’ ने अन्नकूट महोत्सव के दौरान मंदिर में आने के नियम की पालना की गई।  निज मंदिर की प्रतिमाओं पर विशेष श्रृृंगार किया गया तथा बाहरी हिस्से में विशेष रोशनी की गई। अन्नकूट व गोवर्धन पूजा के दौरान हवेली संगीत परम्परा ने कीर्तन के पद ’’भली करी पूजा मेरी बहुत भांत कर व्यंजन अरप्या, सो सब मान लेई मैं तेरी’’, ’’यह लीला सब करत कन्हाई, उत जेमत गोवर्धन संग, इत राधा सो प्रीत लगाई’’ आदि पद गाए गए।
Popular posts
राष्ट्रसंत डॉ वसंतविजयजी महाराज साहेब का अवतरण दिवस 5 मार्च को, त्रिदिवसीय श्री पद्मावती कृपा प्राप्ति आराधना-साधना महोत्सव का होगा आगाज
Image
परमात्मा की इबादत योग्य गुरु से ही संभव है : राष्ट्रसंत डॉ वसंत विजय जी महाराज साहेब / हाथी घोड़ा व ऊंटों सहित पालकी यात्रा में गूंजा जयकारा गुरुदेव का
Image
पीबीएम हेल्प कमेटी, जीवन रक्षा, मारवाड़ होस्पिटल के सयुक्त तत्वावधान में रविंद्र रंग मंच मै 19 मार्च को कार्यक्रम
Image
उष्ट्र पर्यटन : सजावटी ऊन कल्पन का महत्व पर आयोजित कार्यक्रम में ऊंटपालकों, किसानों ने उठाया प्रशिक्षण का लाभ
Image
सरकारी स्कूल के वार्षिकोत्सव समारोह में श्रीकोलायत पहुंचे एडीईओ सुनील बोड़ा ने किया छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत
Image