कोरोना संक्रमण के कारण अब बीकानेर में 12 नवम्बर तक अधिवक्ता नहीं करेंगे पैरवी


 


बीकानेर, 2 नवम्बर (छोटीकाशी डॉट पेज)। राजस्थान के बीकानेर में तेजी से फैल रही विश्वव्यापी महामारी कोविड-19 कोरोना से चहुंओर खतरा पैदा हो रहा है। दिनों-दिन निरन्तर विभिन्न क्षेत्रों में काफी संख्या में कोरोना संक्रमित रोगी मिल रहे हैं। इस दौरान अधिवक्ता भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं तथा इस महामारी से बीकानेर के 11 वकीलों की कोरोना संक्रमण से मृत्यु भी हो चुकी है। बार एसोसिएशन के सचिव शिवराम भादू ने जानकारी देते हुए बताया कि अति आवश्यक मामलों एवं कोविड-19 के तहत जिन मामलों के सम्बन्ध में उच्च न्यायालय के निर्देश है, उन विशेष मामलों के साथ-साथ जमानत के प्रार्थना पत्र स्थगन के प्रार्थना पत्र सुपुर्दगी के प्रार्थना पत्र एवं किसी मामले के दोनों पक्षकारों की आपसी सहमति के मामलों में अधिवक्तागण व्यक्तिगत रुप से एवं यथानिर्देशों के तहत वीडियो कांफ्रेंसिंग से पैरवी करने को तैयार हैं। लेकिन फिर भी सोमवार से 12 नवम्बर तक अदालतों में उपस्थित होकर पैरवी करने में अधिवक्तागण असमर्थ रहेंगे। उन्होंने बताया कि 65 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों को घर से बाहर नहीं निकलने की केंद्रीय एवं राज्य सरकार, माननीय सुप्रीम कोर्ट एवं माननीय हाईकोर्ट राजस्थान की गाईडलाईन बनी हुई है। साथ ही कुछ अधिवक्तागण रुटीन प्रकरणों की कोर्ट कार्यवाही में शामिल होने के लिए कोविड-19 के कारण मेंटली प्रीपेयर भी नहीं है। इसीलिए 12 नवम्बर तक अधिवक्ता कोर्ट में पैरवी नहीं करेंगे।


 



Popular posts
श्री विश्वशांति एवं महालक्ष्मी कुबेर अनुष्ठान में लिये गये संकल्प का फल राष्ट्रपति से लेकर हर आम इंसान को मिलेगा : राष्ट्रसंत डॉ वसंतविजयजी महाराज
Image
15 हजार 119 व्यापारियों ने लिया वाणिज्यिक कर विभाग की एमनेस्टी स्कीम का लाभ, 42 करोड़ रुपये माफ : हरि सिंह चारण
Image
प्रयागराज-जयपुर एक्सटेंशन बीकानेर ट्रेन को जल्द चलाया जाए, पुरी ट्रेन के खाली रेक को भेजें हरिद्वार
Image
नवाचार के साथ संयुक्त शपथग्रहण समारोह, नारायण चोपड़ा ने श्रावक निष्ठा पत्र का सभी को वाचन करवाया
Image
अभिमंत्रित सिद्ध होने वाले 5 हजार कलश जिस घर में पहुंचेंगे वहां सम्पन्नता, ऐश्वर्य, सुख व समृद्धि का होगा वास
Image