बीकानेर में भी पर्यटकों की सहायता और सुरक्षा के लिए तैनात पर्यटन पुलिस बल को मिला विशेष प्रशिक्षण


 


बीकानेर, 16 सितम्बर (छोटीकाशी डॉट पेज)। राजस्थान के बीकानेर में पर्यटकों की सहायता और सुरक्षा के लिए पर्यटन पुलिस बल (टैफ ) का दो दिवसीय विशेष प्रशिक्षण बुधवार को संपन्न हुआ। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रदेशभर में पर्यटन पुलिस बल के लिए आयोजित किए गए इस प्रशिक्षण में इस बात पर विशेष जोर दिया गया कि सैलानियों के साथ संवेदनशील व्यवहार और उनकी समस्याएं दूर करने से ही प्रदेश के पर्यटन उद्योग को मजबूती मिलेगी। प्रशिक्षण के दौरान पर्यटन विभाग जयपुर व अन्य अधिकारियों द्वारा पर्यटक सहायता बलों की भूमिका और दायित्व, पर्यटकों के साथ व्यवहार, अतुल्य भारत की संकल्पना और भाषा संबंधी समस्याओं में सहयोग सहित भ्रमण के दौरान आने वाली समस्याएं और पर्यटकों के साथ उत्पन्न किसी भी आपात स्थिति को संभालने सहित विभिन्न बिंदुओं पर विस्तार से प्रशिक्षण दिया गया। बीकानेर पर्यटन विभाग के सहायक पर्यटन अधिकारी पवन कुमार शर्मा ने बताया कि जरिए वीसी बीकानेर के नो टैफ कर्मियों को प्रशिक्षण दिलवाया गया। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान पर्यटन विभाग की अतिरिक्त निदेशक डॉ मनीषा अरोड़ा ने राज्य में पर्यटन उद्योग को संबल प्रदान करने के लिए पर्यटकों की सहायता हेतु तैनात जवानों को उनके दायित्वों से अवगत करवाया। अतिरिक्त निदेशक पर्यटन विभाग संजय पांडे ने पर्यटन उद्योग को आगे बढ़ाने और राज्य के महत्वपूर्ण पर्यटक स्थलों की जानकारी देते हुए पर्यटक स्थलों के विकास तथा पर्यटन केंद्रो को और आकर्षक बनाने के लिए चर्चा की। प्रशिक्षण के दौरान पर्यटन विभाग के संयुक्त निदेशक आनंद त्रिपाठी ने लाइसेंस धारी गाइड और पर्यटकों के साथ पर्यटन पुलिस बल के व्यवहार के संबंध में विस्तार से चर्चा की। सहायक पर्यटन अधिकारी और टैफ प्रभारी शर्मा ने बताया कि पर्यटकों की भाषा संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए भी प्रशिक्षण के दौरान चर्चा की गई। विशेष तौर पर पर्यटकों के भ्रमण के दौरान लूटपाट, शारीरिक छेड़छाड़, अभद्र टिप्पणी जैसी समस्याओं से निपटने में पर्यटन सहायता बल की भूमिका से अवगत कराया गया। प्रशिक्षण के दौरान इंडिया टूरिज्म भारत सरकार के निदेशक करण सिंह, संयुक्त निदेशक पवन कुमार जैन, पर्यटन थाना अधिकारी सत्यपाल सिंह, पर्यटक स्वागत केंद्र जयपुर के उपनिदेशक उपेंद्र सिंह शेखावत, संयुक्त निदेशक राजेश कुमार ने भी कार्मिकों को पर्यटन से जुड़े विभिन्न विषयों पर जानकारी दी। शर्मा ने बताया कि बीकानेर कार्यालय के पर्यटक सहायता बल के सुपरवाइजर सुरेंद्र सिंह सहित नो टैफ कर्मियों के साथ इस प्रदेश स्तरीय प्रशिक्षण में भरतपुर, जैसलमेर, जोधपुर, चित्तौडग़ढ़, उदयपुर, माउंट आबू, अजमेर और पुष्कर में तैनात टैफ कार्मिक भी जुड़े। प्रशिक्षण के जरिए पर्यटन पुलिस बल पर्यटकों को विशेष सहायता और सुरक्षा के लिए प्रेरित हो सकेंगे।


Popular posts
बीकानेर में पहला पिंक ऑटो लाभार्थी कौशल्या देवी को सुपुर्द : केंद्रीय मंत्री अर्जुन, एमएलए सिद्धी, मेयर सुशीला, कलेक्टर मेहता व एसपी चंद्रा भी रही मौजूद
Image
श्रीराम सुपर 111 और 1-एसआर-14 गेहूं बीज राजस्थान के किसानों को दे रहा है बेहतर उत्पादकता !
Image
शहीद मेजर पूर्ण सिंह का स्मरण किया : मेजर पूर्ण सिंह की मूर्ति पर हुआ श्रद्धाजंलि कार्यक्रम
Image
केन्द्र सरकार की विभिन्न योजनाओं का पात्र लोगों को मिले लाभ-मेघवाल / जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक आयोजित
Image
राज्य के बजट पर गहलोत, नितिन, सुमित की प्रतिक्रिया
Image