राष्ट्रीय राजमार्गों पर चल रहे सड़क निर्माण के कार्य निश्चित समय सीमा में पूर्ण गुणवत्ता के साथ पूर्ण हो जाए : कलक्टर नमित मेहता


 


बीकानेर, 27 अगस्त। जिला कलक्टर नमित मेहता ने कहा कि बीकानेर से होकर निकलने वाले सभी राष्ट्रीय राजमार्गों पर चल रहे सड़क निर्माण के कार्य निश्चित समय सीमा में पूर्ण गुणवत्ता के साथ पूर्ण हो जाए तथा ऐसे स्थान का चिन्हीकरण किया जाए ,जो दुर्घटना संभावित स्थल है। इन स्थानों पर साइन बोर्ड लगाए जाएं तथा बीकानेर से नागौर तक के सड़क निर्माण का कार्य अगस्त 2022 तक पूर्ण हो जाए इसके लिए संबंधित कार्यकारी एजेंसी और विभाग नियमित रूप से कार्य की प्रगति की समीक्षा करते रहें। मेहता गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभागार में सार्वजनिक निर्माण विभाग, राष्ट्रीय उच्च मार्ग,राजस्थान राज्य सड़क विकास एवं निर्माण निगम लिमिटेड सहित वन विभाग के तहत चल रहे विभिन्न सड़क निर्माण योजनाओं तथा सांसद व विधायक कोष से बनाने वाली सड़कें और पेच वर्क कार्यों की समीक्षा बैठक में बोल रहे थे।  उन्होंने कहा कि बीकानेर से नागौर तक सड़क का चैड़ीकरण और निर्माण का कार्य अगस्त 2022 तक पूर्ण हो जाए, इस कार्य पर 250 करोड़ रुपए वहन होने हैं और बीकानेर से नागौर के मध्य चार रेलवे ओवर ब्रिज तथा तीन बाईपास का निर्माण होना है, यह कार्य भी निश्चित समय में गुणवत्ता के साथ हो जाए।  इसके लिए विभाग के अभियंता निरंतर मॉनिटरिंग करते रहे। उन्होंने कहा कि इस कार्य में जो भूमि अधिग्रहण का कार्य होना है और अधिग्रहित भूमि होने के पश्चात भूमि मालिक को दिए जाने वाले मुआवजे का कार्य पूर्ण कर लिया जाए। इसमें किसी भी स्तर पर कोताही नहीं होनी चाहिए। भूमि का अधिग्रहण समय पर नहीं होने के कारण निर्माण कार्य में विलंब किसी भी स्थिति में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जिला कलक्टर ने राजस्थान राज्य सड़क विकास एवं निर्माण निगम लिमिटेड के अभियंताओं को निर्देश दिए कि मरुधरा बायोलॉजिकल पार्क का निर्माण जल्द हो जाए, इसके लिए अन्य विभाग के अधिकारियों के साथ समन्वय स्थापित कर कार्य इस प्रकार से किया जाए कि जितनी धनराशि के कार्य होते हैं उनका उपयोग हो जाए और वहां जितना भी कार्य होता है उसमें पाक की सुविधाएं विकसित कर उपयोग होना प्रारंभ हो जाए,इस बात का ध्यान रखा जाए। उन्होंने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अभियंता से कहा कि लक्ष्मीनाथ मंदिर के मुख्य द्वार के पास जो नया द्वार बन रहा है इस कार्य को भी जल्द से जल्द पूर्ण कर लिया जाए। वर्तमान में कोविड-19 के कारण मंदिरों में आवागमन भी कम रहता है, ऐसे में अगर निर्माण कार्य जल्द प्रारंभ हो जाए, तो शीघ्रता से पूर्ण हो जाएगा। साथ ही सार्वजनिक निर्माण विभाग यह भी देखें कि वर्तमान में एडजस्टिंग रोड को चैड़ा करने के जो कार्य प्रारंभ कर रखे हैं वे सभी कार्य 20 सितंबर तक पूर्ण कर लिए जाएं।

सांसद व विधायक कोष से बनने वाली सभी सड़कें शीघ्रता से बने
       जिला कलक्टर मेहता सभी कार्यकारी एजेंसियों को कहा कि सांसद व विधायक निधि से भी जिले की विभिन्न सड़कों का निर्माण करवाने के लिए धनराशि की स्वीकृति प्रदान की गई है। जिन विधायकों एवं सांसद द्वारा सड़क निर्माण के लिए राशि जारी की गई है, वहां तत्काल कार्य प्रारंभ कर पूर्ण कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि अगर किसी स्थान पर सड़क निर्माण करना फिजिकल नहीं है तो ऐसी स्थिति में तत्काल संबंधित विधायक को अवगत करवा दिया जाए कि कार्य करना तकनीकी रूप से सही नहीं है। उन्होंने कहा कि सड़क निर्माण जैसे महत्वपूर्ण कार्य में विलंब नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि भविष्य में जब भी नई सड़क बनानी हो तो इसकी स्वीकृति जारी करने से पूर्व संबंधित क्षेत्र के राजस्व अधिकारी से भूमि का कोई विवाद नहीं है इसका भी प्रमाण पत्र ले लिया जाए ताकि भूमि के विवाद के कारण निर्माण कार्य बाधित ना हो
सीमांत क्षेत्र के कार्य शीघ्र पूर्ण किए जाएं
      जिला कलक्टर ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अभियंता को कहा कि सीमांत क्षेत्र विकास कार्यक्रम में जो कार्य स्वीकृत हैं, वे सभी कार्य शीघ्र पूर्ण कर ली जाए। साथ ही जिले में स्वीकृत विकास पथ और आर आई डी एफ नाबार्ड के माध्यम से होने वाले संपूर्ण कार्य भी निश्चित समय अवधि में पूर्ण हो जाए । उन्होंने कहा कि निर्माण कार्य समय पर पूर्ण नहीं होने के कारण स्वीकृत राशि से कार्य होने में परेशानी रहती है।
ओवरलोड वाहनों के विरूद्ध चलेगा अभियान
जिला कलक्टर ने कहा कि ओवरलोड वाहन के कारण भी सड़कें क्षतिग्रस्त होती है, ऐसे में ओवरलोड वाहनों पर अंकुश लगाने के लिए प्रथम चरण में वाहन चालकों और मालिकों को समझाया जाएगा।  इसके बाद परिवहन, पुलिस और प्रशासन की ओर से संयुक्त रूप से अभियान चलाकर ओवरलोड वाहनों के विरूद्ध नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। साथ ही राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहन खड़े ना रहे, विशेषकर किसी तरह की फैक्ट्री,कल कारखाना अथवा किसी वेयरहाउस के आसपास वाहनों के खड़े रहने से अगर यातायात बाधित होता है तो यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।  ऐसे में संबंधित के विरुद्ध भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
       बैठक में एन एच ए के अधीक्षण अभियन्ता बसंत कुमार आचार्य, सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियन्ता डीपी सोनी, एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर सुभाष जानू आरएसआरडीसी के सुरेंद्र सिंह सहित अन्य अभियंता उपस्थित थे।
कोविड-19 की समीक्षा-इससे पूर्व जिला कलक्टर मेहता ने कोरोना की समीक्षा बैठक में चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए और कहा कि सुनिश्चित किया जाए कि जो भी कोरोना पॉजिटिव रोगी चिन्हित  हो जाता है उसके पर्सनल कॉन्टैक्ट में आने वाले सभी व्यक्तियों का कोविड-19 आवश्यक रूप से सैम्पल लिए जाए।


Popular posts
पीएम मोदी के जन्मदिन पर रांका ने 200 मंदिरों में चढ़ाया प्रसाद, लगातार 20 दिन करेंगे सेवा व समर्पण कार्य
Image
रामेश रत्नम का भूमि पूजन शिखर चंद सुराणा के कर कमलों से हुआ
Image
डूंगर काॅलेज में प्रख्यात शिक्षाविद् एवं रसायनज्ञ प्रो. रविन्द्र कुलश्रेष्ठ का सम्मान, पुस्तक आध्यात्मिक अंकुर नाम पुस्तक का भी वितरण
Image
बीकानेर बीएसएफ में अध्यक्षा श्रीमती अंबिका राठौड़ की अगुवाई में हर्षोल्लास से मनाया गया बावा स्थापना दिवस
Image
पूर्व कलेक्टर और आज के मुख्य सचिव निरंजन आर्य से बीकानेर को 'महानगरों से कनेक्टिविटी' कराने की मांग
Image