बीकानेर में बीएसएनएलकर्मियों का राष्ट्रव्यापी धरना 


 


छोटीकाशी डॉट पेज। बीकानेर। ऑल India बीएसएनएल डीओटी पेंशनर्स एसोसिएसन के राष्ट्रीय आहवान के तहत एक सूत्री मांग के निराकरण की मांग को लेकर बुधवार को बीकानेर में भी पब्लिक पार्क स्थित महाप्रबन्धक कार्यालय के गेट पर एक दिन का धरना दिया तथा भोजनवकाश में गेट पर एक सभा का आयोजन किया। ऑल इंिडया बीएसएनएल डीओटी पेंशनर्स एसोसिएसन के जिला सचिव रशीद अहमद ने बताया कि एक वर्ष से लम्बित सेवानिवृत कर्मचारियोंं/अधिकारियों के मेडिकल बिलों के भुगतान की मांग को लेकर यह धरना दिया गया जिसमें काफी संख्या में सेवानिवृत कार्यरत कर्मचारी/अधिकारी शामिल हुए। धरनास्थल पर आयोजित सभा को सम्बोधित करते हुए बीएसएनएलईयू राजस्थान दूरसंचार परिमण्डल अध्यक्ष कमल सिंह गोहिल ने अपने सम्बोधन में कहा कि सेवानिवृत कर्मचारियों/अधिकारियों के मेडिकल बिलों का भुगतान दूरंसचार विभाग को करना चाहिए न कि बीएसएनएल को, क्योकि पेंशन का भुगतान दूरंसचार विभाग द्वारा किया जाता है ऐसा करने से बीएसएनएल का आर्थिक बोझ भी कम होगा तथा राजस्व भी बढेगा। बीएसएनएलईयू के जिला सचिव गुलाम हुसैन ने कहा कि जब सेवानिवृत कर्मचारी दूरसंचार विभाग के ही कर्मचारी है तो बीएसएनएल पर भुगतान की जिम्मेदारी देना बिलकुल गलत है, सरकार सेवानिवृति के पशचात भी कर्मचारीयों को परेशान कर रही है सरकार जल्द भुगतान करे अन्यथा कर्मचारियों को अनिश्चितकालीन धरने पर बैठेंगे। प्रदर्शन में एयूएबी के जिला प्रवक्ता ताहिर हुसैन, एसएनईए के जिला सचिव महेश व्यास, एगोटा के राकेश पायल, एनएफटी के राम निवास शर्मा, बीएसएनएलईयू के राजेन्द्र बिनावरा, ओपी भार्गव, डीके शर्मा, अजय सौलंकी, सुनील तंवर मौ हनीफ , दीपचन्द, नमन गोस्वामी, अजय बलोनी समेत कई कर्मचारी /अधिकारी शाामिल थे। 


Popular posts
पीएम मोदी के जन्मदिन पर रांका ने 200 मंदिरों में चढ़ाया प्रसाद, लगातार 20 दिन करेंगे सेवा व समर्पण कार्य
Image
रामेश रत्नम का भूमि पूजन शिखर चंद सुराणा के कर कमलों से हुआ
Image
डूंगर काॅलेज में प्रख्यात शिक्षाविद् एवं रसायनज्ञ प्रो. रविन्द्र कुलश्रेष्ठ का सम्मान, पुस्तक आध्यात्मिक अंकुर नाम पुस्तक का भी वितरण
Image
बीकानेर बीएसएफ में अध्यक्षा श्रीमती अंबिका राठौड़ की अगुवाई में हर्षोल्लास से मनाया गया बावा स्थापना दिवस
Image
पूर्व कलेक्टर और आज के मुख्य सचिव निरंजन आर्य से बीकानेर को 'महानगरों से कनेक्टिविटी' कराने की मांग
Image