सरकार से व्यापारियों का बैंक ब्याज माफी का आग्रह


बीकानेर, 23 मार्च। कोरोना वायरस की महामारी के मद्देनजर प्रदेष में शटडाउन चल रहा है। इसके चलते बीकानेर में भी औद्योगिक उत्पादन बंद है। वर्तमान में मंदी का दौर चल रहा है। इधर सरकार का आदेष है कि जितना भी स्टाफ है उन्हें शट डाउन अवधि का भुगतान भी किया जाए। इस पर व्यापारियों को स्टाफ को सैलेरी व रेंट वाले को रेंट देना पड़ेगा। इन परिस्थितियों के चलते उन कारोबारियों को बेहद चिंता हो रही है जिन्होंने बैंक से लोन ले रखा और उस पर ब्याज की तलवार लटक रही है। कारोबारियों का कहना है कि अपने सामाजिक दायित्व को समझते हुए वे अपने स्टाफ का संकट में नहीं डाल सकतेए लेकिन वर्तमान मंदी के दौर और शटडाउन के हालात में खर्च एवं आय के संतुलन के बिगड़ने की स्थिति में लघुए सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योगों से जुड़े कारोबारी एक सीमा के बाद खर्च का दबाव झेल नहीं पाएंगे। इसलिए सरकार को विकट परिस्थितियों में सहयोग करने वाले कारोबारियों को सहयोग करना चाहिए। बीकानेर व्यापार उद्योग मंडल के अध्यक्ष जुगल राठी ने बताया कि संकट की इस स्थिति में सम्पूर्ण व्यापारी वर्ग सरकार के साथ है। सरकार के आदेश के अनुसार व्यापारिक प्रतिष्ठान एवं कारखाने बंद कर दिए गए हैंए लेकिन स्टाफ सैलेरीए रेंट आदि खर्चे यथावत हैं। इसके बाद भी कारोबारी सामाजिक सरोकार में भी अपनी भागीदारी निभाता है। सरकार के साथ कंधे से कंधा मिला कर चलता है। ऐसे में व्यापारी वर्ग सरकार से बैंक ब्याज माफी का आग्रह करता हैं।
..................................................


Popular posts
पीएम मोदी के जन्मदिन पर रांका ने 200 मंदिरों में चढ़ाया प्रसाद, लगातार 20 दिन करेंगे सेवा व समर्पण कार्य
Image
रामेश रत्नम का भूमि पूजन शिखर चंद सुराणा के कर कमलों से हुआ
Image
डूंगर काॅलेज में प्रख्यात शिक्षाविद् एवं रसायनज्ञ प्रो. रविन्द्र कुलश्रेष्ठ का सम्मान, पुस्तक आध्यात्मिक अंकुर नाम पुस्तक का भी वितरण
Image
बीकानेर बीएसएफ में अध्यक्षा श्रीमती अंबिका राठौड़ की अगुवाई में हर्षोल्लास से मनाया गया बावा स्थापना दिवस
Image
पूर्व कलेक्टर और आज के मुख्य सचिव निरंजन आर्य से बीकानेर को 'महानगरों से कनेक्टिविटी' कराने की मांग
Image