NRCC : पश्चिमी राजस्थान की मरुक्षेत्रीय फसल बाजरा में पाए जाते हैं बहुत सारे पौष्टिक गुण : डॉ. साहू





सीके न्यूज। छोटीकाशी। बीकानेर। राष्ट्रीय उष्ट्र अनुसंधान केंद्र के निदेशक डॉ. आर्तबंधु साहू ने शुक्रवार को कहा कि बाजरा एक पश्चिमी राजस्थान की मरुक्षेत्रीय फसल है जिसमें बहुत सारे पौष्टिक गुण पाए जाते हैं, इस दृष्टिकोण से केन्द्र द्वारा ऊंटनी के किण्वित दूध के साथ इस बाजरे को मिलाकर इसका स्वादिष्ट उत्पाद तैयार किया गया ताकि मानव पोषण एवं मानव स्वास्थ्य के उपयोग में इन अनाजों की महत्ता सिद्ध करते हुए इन्हें उपयोग में लाया जा सके। डॉ. साहू ने केन्द्र द्वारा अपने कृषि प्रक्षेत्र में हाईब्रीड नेपियर पौधरोपण गतिविधि एवं केन्द्र सभागार में किसानों से संवाद कार्यक्रम में यह बात कही। डॉ साहू ने कहा कि केन्द्र निर्मित इस उत्पाद से क्षेत्र विशेष अनाज (बाजरे) की महत्ता भी बढ़ेगी साथ ही ऊँटनी के औषधीय दूध के उपभोग को बढ़ाने में भी इससे सहायता मिल सकेगी। निदेशक ने तैयार उत्पाद को आमजन के उपभोग हेतु शीघ्र ही संस्थान के पार्लर के माध्यम से उपलब्ध करवाए जाने की बात भी कही। केन्द्र के प्रधान वैज्ञानिक डॉ.आर.के.सावल ने हाईब्रीड नेपियर पौध की गुणवत्ता के संबंध में अपना व्याख्यान प्रस्तुत करते हुए कहा कि इससे किसान भाई अपने पशुओं हेतु वर्षभर पौष्टिक चारा उत्पादन प्राप्त कर सकते हैं। इस प्रयोजनार्थ उन्होंने केन्द्र द्वारा हाईब्रीड नेपियर पौध लगाने के बारे में किसानों को प्रोत्साहित भी किया। व्याख्यान में डॉ सावल द्वारा किसानों को नेपियर पौध लगाने संबंधी व्यावहारिक जानकारी दी गई ताकि वे चारा उत्पादन हेतु इन्हें अपने खेतों में लगा कर इस चारा तकनीक को अपना सके। कार्यक्रम समन्वयक महेन्द्र कुमार राव, कृषि अधिकारी ने जानकारी दी कि नेपीयर की चारा उत्पादन क्षमता एवं ऊंटों हेतु इसकी पौष्टिकता को देखते हुए हाईब्रीड नेपियर के करीब 1 हजार पौधे (नेपियर कटिंग) कृषि परिक्षेत्र में लगाए गए है। केन्द्र द्वारा किसानों को 400 नेपियर पौध कटिंग का भी वितरण किया गया। अंतर्राष्ट्रीय पोषक अनाज वर्ष 2023 के परिपेक्ष्य में पोषक अनाज हितधारकों के इस सीधे प्रसारित सम्‍मेलन से केन्द्र वैज्ञानिकों, तकनीकी अधिकारियों के साथ आस-पास के गांवों गाढ़वाला, केसरदेसर, कोटड़ी, सूरधना के लगभग 100 किसानों ने भी सहभागिता निभाई। साथ ही बालिकाएं भी इस कार्यक्रम की हिस्सा बनीं। 

Popular posts
दरबार गढ़ पोशिना बाघेला जागीर के कुंवर हरेंद्रपाल सिंह ने देखा जूनागढ़, मां करणी के दर्शन कर हो गए इम्प्रेस....
Image
केंद्रीय मंत्री अर्जुन की घोषणा, बीकानेर में प्रस्तावित सांईस सेन्टर रक्षा वैज्ञानिक रहे डॉ एच पी व्यास के नाम पर होगा
Image
श्रद्धा पूर्वक करें मां की भक्ति, मिलेगा सुख-समृद्धि और शक्ति : आचार्यश्री श्रीनिवास श्रीमाली / श्री सिद्धेश्वर तीर्थ तिरुपति में श्री नवरात्रि महामहोत्सव का विसर्जन के साथ समापन
Image
मेहाई मेडिकल द्वारा आयोजित कैम्प में डॉ योगेश देंगे अपनी निःशुल्क सेवा और मात्र 50 रुपये में होगी मधुमेह के HBA1C जांच
Image
ब्रम्हर्षि आश्रम तिरुपति में महाचंडी महायज्ञ के साथ श्रीनवरात्रि महामहोत्सव संपन्न, जूम ऑनलाइन पर जुड़े देश और दुनिया के अनेक गुरुभक्त
Image