बंगलानगर क्षेत्र में आधारभूत सुविधाओं के विकास में कमी नहीं आने दी जाएगी, ऊर्जा मंत्री डाॅ. कल्ला ने किया सामुदायिक भवन का उद्घाटन






बीकानेर, 25 अगस्त। ऊर्जा तथा जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी मंत्री डाॅ. बी. डी. कल्ला ने बुधवार को बंगलानगर में करणी माता मंदिर के पास विधायक निधि से सात लाख रुपये की लागत से नवनिर्मित सामुदायिक भवन का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि बंगलानगर क्षेत्र में आधारभूत सुविधाओं के विकास में कमी नहीं आने दी जाएगी। क्षेत्र की आवश्यकता तथा स्थानीय नागरिकों की मांग के आधार पर यहां चरणबद्ध तरीके से विकास कार्य करवाए जाएंगे। उन्होंने वार्ड एक और 21 में सीवर लाइन के अधूरे कार्य शीघ्र पूर्ण करने के लिए आरयूआईडीपी के अधिशाषी अभियंता को दूरभाष पर निर्देशित किया। क्षेत्र में अन्य स्थानों पर सामुदायिक भवन बनाए जाने की मांग पर उन्होंने मौका मुआयना करवाने के निर्देश दिए। श्मशान भूमियों की चार दीवारी का कार्य नगर निगम के माध्यम से फेजवाइज करवाने की बात कही।

स्थानीय नागरिकों ने क्षेत्र में जनता क्लिनिक खुलवाने, स्कूल तथा आंगनबाड़ी केन्द्र प्रारम्भ करने तथा सड़क निर्माण की मांग की। ऊर्जा मंत्री ने इस संबंध में प्राथमिकता से कार्यवाही करने की बात कही। डाॅ. कल्ला ने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों और गरीबों की हिमायती है। प्रदेश में पिछले ढाई वर्षो में मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में ऐतिहासिक निर्णय लिए गए हैं। इनसे आमजन को लाभ हुआ है। उन्होंने कहा कि बीकानेर में लगभग 600 करोड़, नोखा में 708 करोड़ तथा श्रीडूंगरगढ़ में लगभग 650 करोड़ रुपये की वृहद पेयजल योजनाएं बनाई गई हैं। इससे क्षेत्र के लाखों लोगों को लाभ होगा।

ऊर्जा मंत्री ने कहा कि गेबना पीर रोड पर 25 करोड़ रुपये की लागत से 132 केवी जीएसएस का निर्माण किया जा रहा है। इस प्रकार प्रदेश सरकार क्षेत्र के सर्वांगीण विकास को ध्यान रखते हुए कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि कोविड की पहली और दूसरी लहर के दौरान जिले में चिकित्सकीय सुविधाओं के विकास पर भी विशेष ध्यान दिया गया। प्रदेश भर में किसी को आॅक्सीजन की कमी से हताहत नहीं होना पड़ा। यहां तक कि महाराष्ट्र, गुजरात, उत्तरप्रदेश और बिहार जैसे राज्यों के मरीजों का इलाज भी प्रदेश में किया गया।

डाॅ. कल्ला ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के बारे में बताया तथा कहा कि यह ऐसी ऐतिहासिक योजना है, जिसकी बदौलत प्रत्येक परिवार को पांच लाख रुपये तक के कैशलेस स्वास्थ्य बीमा का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि राजस्थान, देश का पहला ऐसा राज्य है जहां निःशुल्क दवा और जांच के उपरांत ऐसी योजना प्रारम्भ की गई है। अब तक लाखों लोगों को इससे लाभांवित हुए हैं। घर-घर औषधि योजना के तहत पौध वितरण की जानकारी दी तथा कहा कि प्रत्येक व्यक्ति अपने घरों में यह पौधे लगाएं। औषधीय महत्व के यह पौधे अत्यंत उपयोगी हैं।

इस दौरान भंवर लाल भांभू, रूप सिंह भाटी, भींयाराम सियाग, महेन्द्र कल्ला, मनीराम कूकणा, बद्री गोदारा, धनराज सोलंकी, हसन अली गौरी, नवीन गोदारा, गणपत कुम्हार, भागीरथ सुथार, अजहरूद्दीन टावरी आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन तोलाराम सियाग ने किया। इससे पहले डाॅ. कल्ला ने शिलापट्टिका का अनावरण तथा फीता काटकर भवन का लोकार्पण किया। उन्होंने भवन का अवलोकन भी किया।

Popular posts
दुबई के शारजहां में समुद्र के किनारे चोखी ढाणी रिसोर्ट में लगेगी पूर्व महाराजा गंगासिंह की प्रतिमा
Image
रोडवेडकर्मियों ने जयपुर में 5 अक्टूबर को जयपुर में महारैली करने का लिया फैसला!
Image
राजस्थान शिक्षक संघ राष्ट्रीय के चुनाव जयपुर में सम्पन्न, बीकानेर के शिक्षक नेता रवि आचार्य निर्विरोध अतिरिक्त महामंत्री निर्वाचित
Image
श्राद्ध से जुड़ी हर वो बात जिसे आपको जानना चाहिए, श्राद्ध पक्ष 06 अक्टूबर तक चलेगा : "गुरु" डॉ. नरोत्तम पुजारी-"गुरु"धाम सालासर
Image
प्रिंसीपल डॉ. जी.पी.सिंह, एडी डॉ. राकेश हर्ष निजी खर्च से एक हजार व्यक्तियों को कराएंगे भोजन : बीकानेर सबसे बड़ा केम्पस केंद्र डूंगर कॉलेज !
Image