केंद्रीय मंत्री अर्जुन की दखल के बाद दिल्ली से आए इंजीनियर ने बीकानेर के बिस्सा सहित चार जनों के साथ मिलकर ठीक कर दिए वेंटिलेटर








बीकानेर, 12 मई (सीके न्यूज/छोटीकाशी)। राजस्थान के बीकानेर संभाग मुख्यालय पर कोविड-19 कोरोना वायरस संक्रमण की चेन को तोडऩे के लिए जहां एक ओर शासन-प्रशासन तो जुटे हुए हैं ही साथ ही कोरोना की वजह से वेंटिलेटर की कमी के चलते सैकड़ों लोगों ने दम तोड़ दिया है। ओर तो ओर पीएम केयर फंड से बीते दिसम्बर-2020 में बीकानेर को मिले चालीस वेंटिलेटर में से बीस चालू कंडीशन में थे और बाकी इंस्टॉल नहीं हो जाने की वजह से चालू ही नहीं थे। जो 20 वेंटिलेटर चालू किए गए थे उसमें 5 खराब हो गए। इस तरह कुल 25 वेंटिलेटर्स का वर्तमान कोरोना काल में कोई उपयोग नहीं हो रहा था जब इस बात का पता केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम को चला तो उन्होंने कंपनी के एक इंजीनियर को भेजा। इंजीनियर को कुछ साथियों की जरूरत थी तो मेघवाल ने बीकानेर के जाने-माने रोहिताश बिस्सा, ओजस्वी बिस्सा के साथ कई अन्य से बातचीत करते हुए मात्र 24 घण्टे में 20 वेंटिलेटर इंस्टॉल कर दिए। वेंटिलेटर्स ठीक करने वाली टीम मेें आशीष सोलंकी, गणेश सियाग, प्रदीप तंवर, पीबीएम हॉस्पिटल से डॉ मो यूनुस और टेक्निकल सहयोगी रतन सिंह भी शामिल थे। वेंटीलेटर बनाने वाली कंपनी से फैयान रजन ने मिल कर लगातर 20 घण्टे काम किया। सभी बीस वेंटीलेटर ठीक कर दिए गए और शेष पांच को ठीक करने का सिलसिला बुधवार को शुरू हो गया। 

Popular posts
विश्व में सबसे ज्यादा सड़क सुरक्षा पर दोहे लिखकर बीकानेर के मेवासिंह ने बनाया रिकॉर्ड !
Image
बीएसएफ के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. घनश्याम दास 31 वर्ष की सेवा के उपरांत सेवानिवृत्त, डीआईजी पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ ने दी शुभकामनाएं
Image
बेटिकट यात्रियों, नियम को नहीं मानने वालों से बीकानेर मंडल ने वसूला 1 करोड़ रुपए से ज्यादा राजस्व : रविंद्र चौहान पहले व आशीष व्यास दूसरे नंबर पर
Image
राजकीय डूंगर महाविद्यालय में वाहनों के प्रदूषण जाँच के लिए एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक द्वारा शिविर आयोजित
Image
कैमल इको टूरिज्म को बढ़ावा देने हेतु एनआरसीसी के महत्ती प्रयास, रोशनी युक्त सौन्दर्यकरण बेल आकृति लोकार्पित
Image