रोडवेज के चालक, परिचालकों के यात्रा भत्ता बढाने की 35 वर्ष पुरानी मांग पूरी!


 


बीकानेर, 19 नवम्बर (छोटीकाशी डॉट पेज)। रोडवेज के दैनिक बस संचालन में रहे चालक, परिचालकों को राजस्थान सरकार के यात्रा भत्ता नियमानुसार न देकर नाईट/आऊट/डे अलांस कम दिये जा रहे थे। इस मुद्दे को एटक युनियन द्वारा 1985 से मांग उठाई गई। मांग न मानने पर औद्योगिक न्यायालय, उच्च न्यायालय, डीबी, एकल खंड पीठ की सीढी दर सीढी धैर्यपूर्वक सफलता की लंबी लडाई लडऩे के बाद माननीय औद्योगिक प्राधिकरण द्वारा फैसला देते हुए रोडवेज प्रशासन को आदेश दिये कि चालक, परिचालकों को 02 अक्टूबर 1997 (गांधी जयंती) से नाईट/आऊट/डे अलांउंस यात्रा भत्ता संशोधित दरों से लागू कर भुगतान किये जायें और भविष्य में भी ये संशोधित करने के आदेश किये जायें। ये यात्रा भत्ता सकल वेतन के सलेब अनुसार लागू होने और पूर्व में मिले यात्रा भते की अंतर राशि का समायोजित बाद करमचारियों को लाभ मिलेगा। एटक के अध्यक्ष ओमप्रकाश गोदारा, श्यामदीन, कुलभुषण सिंह, रिटायर्ड करमचारियों की एसोसिएशन के अध्यक्ष विक्रम सिंह राठौड़, सचिव गिरधारीलाल, जगतपाल हनुमंत मैहरा ने कहा कि इस न्यायालय आदेशों की पालना करने के आदेश अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक जयपुर ने कर दिये हैं जिससे राजस्थान के हजारों सेवारत, सेवानिवृत्त चालक, परिचालकों करमचारियों को हजारों रुपए का आर्थिक लाभ होगा। उन्होंने कहा कि यह करमचारियों की एकता की जीत है, इसके लिए सभी आगार स्तर पर बिल, रिकॉर्ड बनाने का युनियन स्तर से विशेष अभियान चलाया जायेगा, क्योंकि डिपोज पर स्टाफ  सभी जगह कमी है।


 



Popular posts
उत्तर-पश्चिम रेलवे कर्मचारी संघ के मंडल अध्यक्ष बने सुनील शादी, अमर सिंह सिहाग मंत्री
Image
उत्तर-पश्चिम रेलवे कर्मचारी संघ का वार्षिक अधिवेशन में बोले अजय कुमार त्रिपाठी ; कर्मचारी हित के विरुद्ध कुछ भी बर्दाश्त नहीं
Image
पुरानी पेंशन स्कीम बहाल, टीटीई स्टाफ को रनिंग अलाऊंस की सुविधा देने सहित 18 सूत्री मांग को लेकर रेलकर्मियों का अधिवेशन 12 को
Image
फ्लोरल हॉस्पिटल में आयोजित ब्लड डोनेशन कैम्प में 101 यूनिट रक्तदान, उत्साहवर्धन करने पहुंचे मंत्री कल्ला सहित अनेक
Image
डूंगर काॅलेज में प्रख्यात शिक्षाविद् एवं रसायनज्ञ प्रो. रविन्द्र कुलश्रेष्ठ का सम्मान, पुस्तक आध्यात्मिक अंकुर नाम पुस्तक का भी वितरण
Image