रक्षा परिवार की अभिनव मुहिम..भगवान की मूर्तियां-तस्वीर और पूजन सामग्री को अनर्गल रुप से न फेंके : इंदु राजपूत


 



 


 


रक्षा-द सेवियर की अपील हमें दें ताकि हम एकत्रित करके करेंगे सम्मान से विदा


नई दिल्ली। सामाजिक जीवन में अनेक रचनात्मक क्रियाकलापों से जुड़े देश के रक्षा-द सेवियर संगठन ने हिन्दू धर्मावलंबियों अर्थात सनातन धर्म को मानने वाले लोगों के लिए समझाइश के साथ एक अभिनव मुहिम प्रारंभ की है। यानी हमारे देवी-देवताओं की तस्वीरों के सम्मान की श्रृंखला में अनेक लोगों को जोड़कर जागरूक करने का प्रयास किया जा रहा है। रक्षा की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती इंदू राजपूत ने आह्वान किया है कि हमें अपने आराध्य देवी-देवताओं की मूर्तियों का किसी भी स्तर अथवा हाल में अपमान नहीं करना चाहिये। उन्होंने कहा कि वर्तमान दौर में लोगों की अनभिज्ञता अथवा नासमझी के चलते जगह-जगह चौराहे, सड़कों व पेड़ के नीचे पड़ी हुई मूर्तियां और पूजा सामग्री अपने अपमान की कहानी कहती हुई नजर आती है और सबसे बड़ी बात यह है कि इनका कुछ दिनों पहले बड़ी श्रद्धा भाव से पूजन किया जाता है और जब थोड़ी सी भी ये तस्वीर या मूर्ति खंडित (टूटना) हो जाती है तो उसे फेंक दिया जाता है। इंदु राजपूत ने कहा कि जिस श्रद्धा से देवी-देवताओं की पूजा करें उसी श्रद्धा से विदाई की जानी चाहिए। इसके लिए रक्षा परिवार ने एक मुहिम चलायी है जिसके तहत नई दिल्ली के द्वारका स्थित श्याम मंदिर में मूर्ति घर स्थापित किया है और आने वाले समय में द्वारका में जगह-जगह मूर्ति घर लगाने का भी विजन है। राजपूत ने कहा कि रक्षा परिवार के वॉलंटियर्स को मोबाईल 9210210071 पर अपना सामान एकत्रित करके कॉल कीजिए और इस मुहिम में सहयोग कीजिए। इसके लिए उन्होंने बताया कि नाथूराम गांधी, श्रीमती प्रोमिला मलिक, श्रीमती इंदू गर्ग, सुनील दत्त वत्स भी सहयोग कर रहे हैं। राजपूत ने दावा किया कि वे ये तस्वीर, पूजा सामग्री, मूर्तियों को एकत्रित करके पर्यावरण के अनुकूल ही विदा करेंगे।


 



Popular posts
पीएम मोदी के जन्मदिन पर रांका ने 200 मंदिरों में चढ़ाया प्रसाद, लगातार 20 दिन करेंगे सेवा व समर्पण कार्य
Image
रामेश रत्नम का भूमि पूजन शिखर चंद सुराणा के कर कमलों से हुआ
Image
डूंगर काॅलेज में प्रख्यात शिक्षाविद् एवं रसायनज्ञ प्रो. रविन्द्र कुलश्रेष्ठ का सम्मान, पुस्तक आध्यात्मिक अंकुर नाम पुस्तक का भी वितरण
Image
बीकानेर बीएसएफ में अध्यक्षा श्रीमती अंबिका राठौड़ की अगुवाई में हर्षोल्लास से मनाया गया बावा स्थापना दिवस
Image
पूर्व कलेक्टर और आज के मुख्य सचिव निरंजन आर्य से बीकानेर को 'महानगरों से कनेक्टिविटी' कराने की मांग
Image