वाया बीकानेर चलने वाली बाड़मेर-कालका एक्सप्रेस अब चलेगी बाड़मेर-ऋषिकेश ट्रेन


 


बीकानेर (छोटीकाशी डॉट पेज)। राजस्थान के बीकानेर संभाग मुख्यालय से देवनगरी हरिद्वार जाने वाली बाड़मेर-कालका एक्सप्रेस ट्रेन अब बाड़मेर-ऋषिकेश ट्रेन  कहलाएगी। चण्ड़ीगढ़ और कालका जाने वाले यात्रियों को अब ट्रेन अम्बाला में बदलनी होगी। क्षेत्र से धर्मनगरी हरिद्वार के लिये जाने वाले हजारों श्रद्घालुओं के लिये यह अच्छी खबर आज सामने आयी है। रेल प्रशासन ने लॉकडाउन की अवधि में ट्रेनों में सुधार की दिशा में अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लेकर सुधार की ओर कदम बढ़ाये हैं। बाड़मेर से प्रतिदिन कालका को जाने वाली एक्सप्रेस गाड़ी संख्या 24887/24888 के स्लिपर कोच हटाने का भी निर्णय लिया गया है। अब इस ट्रेन में श्रीगंगानगर से उद्यान आभा तूफान एक्सप्रेस में लगकर कालका के लिये जाने वाला स्लीपर कोच भी नही लगेगा। बठिण्डा में इसकी शंटिंग का समय बचेगा व बाड़मेर कालका ट्रैन में हरिद्वार के लिए जो कोच लगकर अम्बाला में शंटिंग के बाद ऋषिकेश जाते थे वह समय भी बचेगा। जेडआरयूसीसी के पूर्व सदस्य भीम शर्मा ने बताया कि बाड़मेर से चलकर वाया बीकानेर, सूरतगढ़, हनुमानगढ़, संगरिया, मंडी डबवाली, बठिण्डा, अम्बाला, चण्डीगढ़, कालका को जाने वाली इस ट्रेन में चंडीगढ़ व कालका की तुलना में हरिद्वार की सवारियां ज्यादा होती थी। अधिकांश यात्री अम्बाला तक इसमें सवार होकर वहां से ट्रेन बदलकर हरिद्वार या ऋषिकेश जाते थे, जबकि इसमें ऋषिकेश जाने वाले कोच कम होने की वजह से लम्बी वेटिंग लिस्ट भी चलती थी और यात्री परेशान होते थे। अब रेलवे बोर्ड के नये निर्णय के अनुसार बाड़मेर से पूरी ट्रेन ही ऋषिकेश के लिये प्रस्थान करेगी। जिन यात्रियों को चंडीगढ़ या कालका की यात्रा करनी होगी  उन्हें अम्बाला में ट्रेन बदलनी पड़ेगी। बठिण्डा व अम्बाला में शंटिंग का कोई झंझट नही रहेगा। इससे ट्रैन का यात्रा समय बचेगा। रेलवे बोर्ड के डिप्टी डायरेक्टर (कोचिंग) विवेक कुमार सिन्हा ने इस सम्बंध में आदेश जारी कर दिये हैं। भीम शर्मा के अनुसार पूरी ट्रैन बाड़मेर से ऋषिकेश एकल होने से एक ओर जहां यात्रा का समय बचेगा वही दूसरी ओर हरिद्वार जाने वालों को बड़ा लाभ ये होगा कि अब हरिद्वार व ऋषिकेश के लिये सीट आसानी से उपलब्ध हो सकेगी।


Popular posts
परमात्मा की इबादत योग्य गुरु से ही संभव है : राष्ट्रसंत डॉ वसंत विजय जी महाराज साहेब / हाथी घोड़ा व ऊंटों सहित पालकी यात्रा में गूंजा जयकारा गुरुदेव का
Image
राष्ट्रसंत डॉ वसंतविजयजी महाराज साहेब का अवतरण दिवस 5 मार्च को, त्रिदिवसीय श्री पद्मावती कृपा प्राप्ति आराधना-साधना महोत्सव का होगा आगाज
Image
केंद्रीय प्रशिक्षण शिविर योजनांतर्गत बीजेपी पुराना-नयाशहर मंडल का गैर आवासीय प्रशिक्षण शिविरों का आगाज
Image
कृष्णगिरी में श्री पद्मावती सिद्धि साधना शिविर में गूंजे दिव्य अलौकिक मंत्र / आराध्य और आराधक दोनों में शक्ति जरुरी : राष्ट्रसंत डॉ वसंतविजयजी मसा.
Image
पीबीएम हेल्प कमेटी, जीवन रक्षा, मारवाड़ होस्पिटल के सयुक्त तत्वावधान में रविंद्र रंग मंच मै 19 मार्च को कार्यक्रम
Image