13 दिन की 'दक्षिण भारत यात्रा' आईआरसीटीसी करवा रहा न्यूनतम किराए में, जयपुर से 10 सितम्बर को चलेगी




जयपुर [सीके न्यूज/छोटीकाशी]। देश भर में कोरोना वायरस के घटते मामलों को देखते हुए तथा भारत दर्शन ट्रेनों की नागरिकों की अपार मांग को ध्यान में रखते हुए भारतीय रेलवे के उपक्रम आईआरसीटीसी ने सितंबर में 13 दिन की रामेश्वरम, मदुरै, त्रिवेंद्रम, कन्याकुमारी, तिरुचिरापल्ली, तिरुपति एवं मल्लिकार्जुन की यात्रा ट्रैन 10 सितम्बर को चलाई जाएगी। आईआरसीटीसी के संयुक्त महाप्रबंधक/पर्यटन योगेंद्र सिंह गुर्जर ने बताया कि इस यात्रा के दौरान नाश्ता, भोजन, गंतव्य स्टेशन पर धर्मशाला में रहने तथा स्टेशन से धर्मशाला तक बस से लाने व ले जाने की व्यवस्था आईआरसीटीसी द्वारा की गयी है। इसके अलावा आईआरसीटीसी एक अनुभवी टूर मेनेजर भी यात्रियों की सुविधाओं का ध्यान रखने के लिए साथ में भेजेगी। इस ट्रैन का किराया 12,285/- प्रति व्यक्ति रखा गया है, जो अब तक किसी भी संस्था द्वारा लिए गए कीमत से न्यूनतम कीमत है। गुर्जर ने बताया कि यह ट्रैन 10 सितम्बर को जालंधर कैंट स्टेशन से जल्द सुबह रवाना होकर वाया चंडीगढ़, दिल्ली कैंट, रेवाड़ी, अलवर होते हुए रात तक जयपुर पहुंचेगी तथा 13 सितम्बर को सुबह ट्रैन रामेश्वरम पहुँच जाएगी जहां रामनाथ स्वामी मंदिर के दर्शन करवाए जायेंगे एवं रात्रि विश्राम रामेश्वरम में रहेगा। 14 सितम्बर को दोपहर में ट्रैन रामेश्वरम से मदुरै के लिए रवाना होगी तथा शाम को मदुरै पहुंचेगी जहां मीनाक्षी मंदिर के दर्शन करवाए जायेंगे तथा रात को ट्रैन त्रिवेंद्रम के लिए रवाना होगी। 15 सितम्बर को सुबह ट्रैन त्रिवेंद्रम पहुंचेगी जहां स्वामी पद्मनाभम मंदिर के दर्शन तथा कोवलम बीच भ्रमण करवाया जायेगा, रात को ट्रैन कन्याकुमारी के लिए रवाना होगी। वहीं 16 सितम्बर को सुबह ट्रैन कन्याकुमारी पहुंचेगी जहां दिन में कन्याकुमारी भ्रमण करवाया जायेगा तथा रात को ट्रैन तिरुचिरापल्ली के लिए रवाना होगी। 17 सितम्बर को सुबह तिरुचिरापल्ली पहुंचेगी जहां रंगनाथ स्वामी मंदिर के दर्शन करवाए जायेंगे तथा रात को ट्रैन तिरुपति के लिए रवाना होगी। 18 सितम्बर को सुबह ट्रैन तिरुपति पहुंचेगी जहां तिरुपति बालाजी के दर्शन करवाए जायेंगे तथा रात्रि विश्राम तिरुपति में रहेगा। अगले दिन 19 सितम्बर को शाम में ट्रैन कुर्नूल के लिए रवाना होगी और 20 सितम्बर कुर्नूल पहुंचकर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग दर्शन करवाए जायेंगे एवं रात्रि में ट्रैन वापसी जयपुर के लिए रवाना होगी और 22 सितम्बर को जयपुर पहुंच जाएगी। 

Popular posts
दुबई के शारजहां में समुद्र के किनारे चोखी ढाणी रिसोर्ट में लगेगी पूर्व महाराजा गंगासिंह की प्रतिमा
Image
रोडवेडकर्मियों ने जयपुर में 5 अक्टूबर को जयपुर में महारैली करने का लिया फैसला!
Image
राजस्थान शिक्षक संघ राष्ट्रीय के चुनाव जयपुर में सम्पन्न, बीकानेर के शिक्षक नेता रवि आचार्य निर्विरोध अतिरिक्त महामंत्री निर्वाचित
Image
श्राद्ध से जुड़ी हर वो बात जिसे आपको जानना चाहिए, श्राद्ध पक्ष 06 अक्टूबर तक चलेगा : "गुरु" डॉ. नरोत्तम पुजारी-"गुरु"धाम सालासर
Image
प्रिंसीपल डॉ. जी.पी.सिंह, एडी डॉ. राकेश हर्ष निजी खर्च से एक हजार व्यक्तियों को कराएंगे भोजन : बीकानेर सबसे बड़ा केम्पस केंद्र डूंगर कॉलेज !
Image