उच्च न्यायालय की बैंच स्थापित करने की मांग को लेकर वकीलों ने दिया कलेक्टर मेहता को ज्ञापन




बीकानेर, 19 अप्रेल (सीके न्यूज छोटीकाशी)। राजस्थान के बीकानेर में बार एसोसिएशन द्वारा संभाग मुख्यालय पर माननीय उच्च न्यायालय की बैंच को स्थापित करने के लिए सोमवार को प्रोटेस्ट डे मनाया गया जिसके तहत बीकानेर के एडवोकेट्स द्वारा न्यायालयों में पैरवी नहीं की गयी तथा महामहिम राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन कलेक्टर नमित मेहता के माध्यम से, महामहिम मुख्य न्यायाधिपति, राजस्थान उच्च न्यायालय, जोधपुर को जिला एवं सत्र न्यायाधीश के माध्यम से एवं विधि मंत्री भारत सरकार को 136 वां ज्ञापन प्रेषित किया गया। एसोसिएशन के अध्यक्ष कमल नारायण पुरोहित ने बताया कि प्रतिनिधिमण्डल में सचिव जितेंद्र सिंह शेखावत, नवीन शर्मा, सुरेश नारायण पुरोहित, अशोक बोबरवाल, मो. सब्बीर, मानवेंद्र सिंह, राजकिशोर राजपुरोहित समेत अनेक अधिवक्तागण शामिल रहे। पुरोहित ने बताया कि बीकानेर में वर्ष 1922 से 1950 तक बीकानेर हाईकोर्ट अस्तित्व में थी जिसे बाद में एकीकृत राजस्थान के पश्चात् हटा दिया गया। केंद्र स रकार की नीति के तहत न्याय सुलभ एवं सुगम होना चाहिए इसी के तहत जिला न्यायालयों को तहसील स्तर पर खोला जा रहा है इस पर एडवोकेट्स की मांग है कि उच्च न्यायालय का विकेंद्रीकरण होना चाहिए। विधि एवं न्यायमंत्री ने भी इस सम्बन्ध में उचच स्तरीय कमेटी गठित की थी एवं विधि आयोग की रिपोर्ट में भी आया था कि उच्च न्यायालयों का विकेंद्रीकरण होना चाहिए। इसी मांग के तहत बीकानेर संभाग के सभी एडवोकेट्स ने 125 दिनों तक हड़ताल कर अदालतों में अपना कार्य स्थगित किया था। उसी परिप्रेक्ष्य मं संकल्प दिवस मनाया जाता है और उस दिन कार्य स्थगित रखा जाता है।

Popular posts
श्री विश्वशांति एवं महालक्ष्मी कुबेर अनुष्ठान में लिये गये संकल्प का फल राष्ट्रपति से लेकर हर आम इंसान को मिलेगा : राष्ट्रसंत डॉ वसंतविजयजी महाराज
Image
15 हजार 119 व्यापारियों ने लिया वाणिज्यिक कर विभाग की एमनेस्टी स्कीम का लाभ, 42 करोड़ रुपये माफ : हरि सिंह चारण
Image
प्रयागराज-जयपुर एक्सटेंशन बीकानेर ट्रेन को जल्द चलाया जाए, पुरी ट्रेन के खाली रेक को भेजें हरिद्वार
Image
नवाचार के साथ संयुक्त शपथग्रहण समारोह, नारायण चोपड़ा ने श्रावक निष्ठा पत्र का सभी को वाचन करवाया
Image
अभिमंत्रित सिद्ध होने वाले 5 हजार कलश जिस घर में पहुंचेंगे वहां सम्पन्नता, ऐश्वर्य, सुख व समृद्धि का होगा वास
Image