भारत में पर्यावरण शिक्षा पर वेबीनार, जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों पर देशभर के विद्वानों ने किया विचार-विमर्श




बीकानेर, 22 अप्रैल (सीके न्यूज/छोटीकाशी)। भारत में पर्यावरण शिक्षा विषय पर भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद द्वारा भारत का अमृत महोत्सव व्याख्यान श्रृंखला के तहत गुरुवार को वेबीनार आयोजित किया गया। वेबीनार के विषय में स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विद्यालय के कुलपति प्रो.आर.पी सिंह ने बताया कि आज पृथ्वी दिवस के मौके पर आयोजित भारत में पर्यावरण शिक्षा पर व्याख्यान में पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों पर देश भर के विद्वानों ने विचार विमर्श किया। वेबीनार में मुख्य वक्ता विश्व प्रसिद्ध पर्यावरण विज्ञानी डॉ इरेच भरूचा रहे। डॉ भरूचा ने भारत में पर्यावरण शिक्षा के इतिहास से लेकर अब तक सभी आयामों पर विस्तार से चर्चा की और जैव विविधता, कृषि, जलवायु परिवर्तन पर प्रकाश डाला। जन चेतना के लिए सिटीजन साइंस को बढ़ावा मिले ताकि सभी शिक्षक .विद्यार्थी एवं प्रत्येक व्यक्ति पर्यावरण संबंधी मुद्दों से जुड़े और अपनी भागीदारी निभाएं। कम्युनिकेशन, एजुकेशन और पब्लिक अवेयरनेस की अहमियत समझाई। गुणवत्ता युक्त शिक्षा विशेषकर पर्यावरण शिक्षा पर जोर दिया। अपने व्याख्यान के अंत में कहा कि प्रकृति ही उत्तम शिक्षक हैं। इस वेबीनार का संचालन डॉ राकेश चंद्र अग्रवाल द्वारा किया गया। कार्यक्रम के अंत में केरल, गोवा, जबलपुर, पंजाब और देश के विभिन्न जगह से भाग ले रहे विद्वानों ने डॉ भरूचा से रोचक संवाद व सवाल जवाब किए।

Popular posts
केंद्र सरकार ने देश के स्कूलों की मदद करने के लिए एनसीसी को स्व वित्तीय पोषण योजना के रुप में किया आरंभ
Image
बीएसएफ सैक्टर बीकानेर मना रहा गौरवमय 50 वर्ष स्थापना दिवस, सीमा पर तैनात जवानों ने बखूबी फर्ज निभाते हुए बॉर्डर को सुरक्षित रखा
Image
अग्रवाल की बीकानेर शहर के व्यापारियों व उद्योगपतियों से अपील, टीकाकरण वित्तीय सहयोग प्रदान करें
Image
सिद्धि कुमारी ने स्वीकृत किए 1 करोड़, बनेगा ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट : डेढ़ महीने पहले भी स्वीकृत किए थे 1 करोड़
Image
राजा जी फाउण्डेशन ने डिस्पेंसरी में दी इलेक्ट्रोनिक सैनेटाइजन मशीन, बिस्सा भी रहे मौजूद
Image