भारत में पर्यावरण शिक्षा पर वेबीनार, जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों पर देशभर के विद्वानों ने किया विचार-विमर्श




बीकानेर, 22 अप्रैल (सीके न्यूज/छोटीकाशी)। भारत में पर्यावरण शिक्षा विषय पर भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद द्वारा भारत का अमृत महोत्सव व्याख्यान श्रृंखला के तहत गुरुवार को वेबीनार आयोजित किया गया। वेबीनार के विषय में स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विद्यालय के कुलपति प्रो.आर.पी सिंह ने बताया कि आज पृथ्वी दिवस के मौके पर आयोजित भारत में पर्यावरण शिक्षा पर व्याख्यान में पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों पर देश भर के विद्वानों ने विचार विमर्श किया। वेबीनार में मुख्य वक्ता विश्व प्रसिद्ध पर्यावरण विज्ञानी डॉ इरेच भरूचा रहे। डॉ भरूचा ने भारत में पर्यावरण शिक्षा के इतिहास से लेकर अब तक सभी आयामों पर विस्तार से चर्चा की और जैव विविधता, कृषि, जलवायु परिवर्तन पर प्रकाश डाला। जन चेतना के लिए सिटीजन साइंस को बढ़ावा मिले ताकि सभी शिक्षक .विद्यार्थी एवं प्रत्येक व्यक्ति पर्यावरण संबंधी मुद्दों से जुड़े और अपनी भागीदारी निभाएं। कम्युनिकेशन, एजुकेशन और पब्लिक अवेयरनेस की अहमियत समझाई। गुणवत्ता युक्त शिक्षा विशेषकर पर्यावरण शिक्षा पर जोर दिया। अपने व्याख्यान के अंत में कहा कि प्रकृति ही उत्तम शिक्षक हैं। इस वेबीनार का संचालन डॉ राकेश चंद्र अग्रवाल द्वारा किया गया। कार्यक्रम के अंत में केरल, गोवा, जबलपुर, पंजाब और देश के विभिन्न जगह से भाग ले रहे विद्वानों ने डॉ भरूचा से रोचक संवाद व सवाल जवाब किए।

Popular posts
श्री विश्वशांति एवं महालक्ष्मी कुबेर अनुष्ठान में लिये गये संकल्प का फल राष्ट्रपति से लेकर हर आम इंसान को मिलेगा : राष्ट्रसंत डॉ वसंतविजयजी महाराज
Image
15 हजार 119 व्यापारियों ने लिया वाणिज्यिक कर विभाग की एमनेस्टी स्कीम का लाभ, 42 करोड़ रुपये माफ : हरि सिंह चारण
Image
प्रयागराज-जयपुर एक्सटेंशन बीकानेर ट्रेन को जल्द चलाया जाए, पुरी ट्रेन के खाली रेक को भेजें हरिद्वार
Image
नवाचार के साथ संयुक्त शपथग्रहण समारोह, नारायण चोपड़ा ने श्रावक निष्ठा पत्र का सभी को वाचन करवाया
Image
अभिमंत्रित सिद्ध होने वाले 5 हजार कलश जिस घर में पहुंचेंगे वहां सम्पन्नता, ऐश्वर्य, सुख व समृद्धि का होगा वास
Image