चैतन्य महाप्रभु की 535 वीं जयन्ती 28 को, गौर पूर्णिमा के रुप में मनाएंगे




संजय जोशी

बेंगलूरु। चैतन्य महाप्रभु की 535 वीं जयंती रविवार, 28 मार्च को इस्कॉन मंदिर में गौर पूर्णिमा के रुप में मनाई जाएगी। इस्कॉन बेंगलूरु के अध्यक्ष पद्मश्री मधु पंडित दासजी ने इस त्योंहार को मनाने ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इस अवसर पर रविवार को मुख्य समारोह निताई गौरांगा यानी चैतन्य महाप्रभु और नित्यानंद प्रभुजी के पालकी महोत्सव के साथ शाम 6 बजे प्रारम्भ होगा। इस महोत्सव के बाद भव्य अभिषेक भी होगा। भगवान की मूर्तियों का पूजा अर्चना से पहले पंचामृत, पांच फलों और 108 नदियों के पवित्र जल से अभिषेक किया जाएगा। कार्यक्रम का समापन शयन आरती और शयन पालकी महोत्सव के साथ होगा। इस्कॉन ट्रस्ट के डॉ. कुलशेखर प्रभु के मुताबिक वैश्विक महामारी कोविड-19 के फिर से प्रभावी होने के कारण सोशियल डिस्टेंस के साथ सरकार की सभी गाइडलाइंस की पालना के साथ कार्यक्रम होगा।

Popular posts
देश का नाम रोशन करने वाले ख्याति प्राप्त गोल्फर पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ के दिशा-निर्देशन में बीकानेर का पहला और एकमात्र गोल्फ कोर्स शुरु
Image
आशापुरा पोकरण के लिए बसें रवाना, राजकुमार व्यास बोले ; माता के दरबार में मनाया जाता है नवरात्रा उत्सव
Image
ब्रम्हर्षि आश्रम तिरुपति में महाचंडी महायज्ञ के साथ श्रीनवरात्रि महामहोत्सव संपन्न, जूम ऑनलाइन पर जुड़े देश और दुनिया के अनेक गुरुभक्त
Image
राष्ट्रीय उष्ट्र अनुसंधान केंद्र (एनआरसीसी) देगा ऊंट के बालों से पारंपरिक उत्पाद बनाने का प्रशिक्षण
Image
श्रीकृपा व्यास के मुखारविंद से भागवत कथा शुरु : राजेश चूरा, मीना आचार्य व अमित व्यास ने किया दीप प्रज्जवलन
Image