श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निधि समर्पण अभियानंतर्गत भामाशाह सम्मान समारोह





बीकानेर (सीके मीडिया/छोटीकाशी)। राजस्थान के बीकानेर में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र (ट्रस्ट) द्वारा चलाया जा रहा श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निधि समर्पण अभियान के अंतर्गत रानी बाजार औद्योगिक क्षेत्र स्थित जिला उद्योग संघ सभागार में भामाशाह सम्मान समारोह आयोजित किया गया। समारोह का शुभारंभ पीठाधीश्वर सिंह स्थल पीठ श्रीश्री 1008 क्षमारामजी महाराजए मुख्यवक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ राजस्थान के क्षेत्र प्रचारक निम्बाराम, मुख्य अतिथि नरसी कुलरिया व कार्यक्रम अध्यक्ष टेकचंद बरडिय़ा ने दीप रोशन कर किया। क्षेत्र प्रचारक निम्बाराम ने कहा कि अयोध्या में जो राम मंदिर बन रहा है वो संपूर्ण भारतीय समाज की भावनाओं से बनने वाला राष्ट्र मंदिर है जिसमें देश विदेश में रहने वाला संपूर्ण भारतीय समाज जुडऩे वाला है। अयोध्या का राम मंदिर भारत ही नहीं संपूर्ण विश्व की सांस्कृतिक राजधानी के रूप में प्रतिस्थापित होगा। यह अभियान संपूर्ण विश्व का सबसे बड़ा जनसंपर्क अभियान होने जा रहा है। निम्बाराम ने समाज के प्रबुद्ध लोगों से आगामी 15 फरवरी तक इस अभियान में जुटने का आह्वान किया। क्षमारामजी महाराज ने उद्बोधन में कहा कि राष्ट्रप्रेम भगवान की भक्ति का ही अंग है और यह राम मंदिर उसका साक्षात प्रतीक है, भगवान श्रीराम का संपूर्ण जीवन धर्म का प्रतीक है, इस अभियान में संपूर्ण समाज को जागृत कर पुनीत कार्य में लगाना है। मुख्य अतिथि नरसी कुलरिया ने कहा कि आज राम मंदिर के सहयोग में सहभागी बनकर अपने आपको सौभाग्यशाली महसूस कर रहा हूँ।  प्रभु श्रीराम की कृपा व पूर्वजों आशीर्वाद से हमे आज जो मिला है, उसमें से अपने यथायोग्य अनुसार प्रभु श्रीराम के मंदिर निर्माण में जरूर सहयोग करना चाहिये। कार्यक्रम में बीकानेर के भामाशाहों का सम्मान किया गया जिनमें नरसी कुलरिया, बीकाजी ग्रुप, पवन सिंघानिया, अशोक मोदी, गणेश बोथरा, जयचंदलाल डागा, महावीर रांका, शांतिलाल रांका, चंपालाल डागा, डॉ आर. पी. गुप्ता, गुमानसिंह राजपुरोहित, भंवरसिंह बिलोचिया, राजेन्द्रसिंह बिका का क्षमारामजी महाराज ने दुप्पटा पहनाकर सम्मान किया। बीकानेर महानगर अभियान प्रमुख ऋषिराज भाटी ने बताया कि विश्व हिंदू परिषद के नेतृत्व में इस अभियान के प्रथम चरण में 15 से 30 जनवरी में विभिन्न क्षेत्रों में अनेकानेक कार्यक्रम हुए जिनमें साधु-संतों व समाज के सभी वर्गों के गणमान्य व्यक्तियों का अच्छा सहयोग मिला है। इस अभियान का दूसरा चरण 31 जनवरी से शुरू होने जा रहा है, जो आगामी 14 फरवरी 2021 तक चलेगा। दूसरे चरण में बीकानेर महानगर की तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। बीकानेर महानगर को कुल 7 नगर में विभाजित गया गया है। इन सात नगरों में कुल 74 बस्तियां के अनुसार कार्यकर्ताओं की टोलियां बनाई गई है। प्रत्येक नगर में इस अभियान के प्रमुख, सह प्रमुख, कोष प्रमुख व प्रचार प्रमुख बनाये गये हैं। इसी प्रकार बस्ती अनुसार प्रत्येक टोली में 6-7 कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी दी गई है। सभी टोलियों में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ व अन्य सभी विविध संगठनों के कार्यकर्ताओं को इस अभियान में जिम्मेदारी दी गई है। कार्यक्रम में सुभाष मित्तल, अखिलेश प्रताप सिंह, राजेश लदरेचा, रामपाल महाराज, शिवरतन अग्रवाल, अनिल शर्मा, अशोक परिहर सहित अनेक उपस्थित रहे।

Popular posts
विश्व में सबसे ज्यादा सड़क सुरक्षा पर दोहे लिखकर बीकानेर के मेवासिंह ने बनाया रिकॉर्ड !
Image
बीएसएफ के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. घनश्याम दास 31 वर्ष की सेवा के उपरांत सेवानिवृत्त, डीआईजी पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ ने दी शुभकामनाएं
Image
बेटिकट यात्रियों, नियम को नहीं मानने वालों से बीकानेर मंडल ने वसूला 1 करोड़ रुपए से ज्यादा राजस्व : रविंद्र चौहान पहले व आशीष व्यास दूसरे नंबर पर
Image
राजकीय डूंगर महाविद्यालय में वाहनों के प्रदूषण जाँच के लिए एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक द्वारा शिविर आयोजित
Image
कैमल इको टूरिज्म को बढ़ावा देने हेतु एनआरसीसी के महत्ती प्रयास, रोशनी युक्त सौन्दर्यकरण बेल आकृति लोकार्पित
Image