एनआरसीसी के निदेशक डॉ. आर्तबन्धु साहू बोले ; रेगिस्तानी जहाज 'ऊंट' की औषधीय उपयोगिता को उभारते हुए जन-जन तक प्रसारित करें





बीकानेर, 26 जनवरी (सीके मीडिया/छोटीकाशी)। भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के राष्ट्रीय उष्ट्र अनुसंधान केंद्र [एनआरसीसी] के निदेशक डा. आर्तबन्धु साहू ने मंगलवार को कहा कि हमें रेगिस्तान के जहाज 'ऊंट' की औषधीय उपयोगिता को उभारते हुए इसे जन-जन तक प्रसारित करना होगा। डा साहू ने उष्ट्र प्रजाति व ऊँट पालकों का जिक्र करते हुए कहा कि इस संस्थान का कार्यक्षेत्र पूर्णतया इन्हीं से जुड़ा हुआ है अत: हमें भावी परिदश्य में ऊँट उत्पादन, ऊँटनी के दूध का प्रचलन, बालों की उपयोगिता, उष्ट्र पर्यटन उष्ट्र दौड़ एवं इस व्यवसाय से सम्बद्ध विविध क्षेत्रों में उपयोगिता के साथ-साथ इनमें गुणवत्तापूर्ण सुधार लाने हेतु सकारात्मक सोच के साथ आगे बढऩा होगा। केंद्र निदेशक ने केंद्र में 72 वें गणतंत्र दिवस के मौके पर झण्डारोहण कर सभी वैज्ञानिकों/कर्मचारियों को शुभकामनाएं दीं। डा साहू ने कहा कि भारत की आजादी का दिन देखने के लिए हमारे पूर्वजों ने असंख्य बलिदान दिया है तथा इसी के फलस्वरुप हमें परतंत्रता से निजात मिली है। हमारे देश के संविधान में प्रत्येक नागरिक के कत्र्तव्य एवं अधिकार बताए गए हैं। अत: देश की प्रगति के लिए हमें अपने अधिकारों के प्रति जागरूकता के साथ-साथ अपने कत्र्तव्यों को सर्वोपरि रूप में लेते हुए उनकी पालना किए जाने की महत्ती आवश्कता है। डॉ साहू ने उष्ट्र अनुसंधान के अनुछुए पहलुओं हेतु वैज्ञानिकों को प्रोत्साहित किया। उन्होंने केन्द्र की अन्तर्राष्ट्रीय छवि में निरन्तरता बनाए रखने के लिए सभी को अपने-अपने कार्यक्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ व सकारात्मक योगदान देने की बात कहीं। इस अवसर पर नवाचार के तहत एनआरसीसी परिवार को अपनी गौरवपूर्ण 25 वर्ष सेवा देने वाले वैज्ञानिकों, अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अलावा सतर्कता सप्ताह के तहत आयोजित निबंध प्रतियोगिता के विजेताओं को निदेशक के कर कमलों से सम्मानित किया गया। एनआरसीसी के मीडिया प्रभारी नेमीचंद ने बताया कि केन्द्र में आयोजित गणतंत्र दिवस कार्यक्रम का संचालन हरपाल सिंह कौण्डल द्वारा किया गया।

Popular posts
वार्षिक उत्सव का आयोजन : शिक्षा विभाग की ओर से सुनील बोड़ा A.D.E.O ने अपनी सहभागिता की
Image
परमात्मा की इबादत योग्य गुरु से ही संभव है : राष्ट्रसंत डॉ वसंत विजय जी महाराज साहेब / हाथी घोड़ा व ऊंटों सहित पालकी यात्रा में गूंजा जयकारा गुरुदेव का
Image
राष्ट्रसंत डॉ वसंतविजयजी महाराज साहेब का अवतरण दिवस 5 मार्च को, त्रिदिवसीय श्री पद्मावती कृपा प्राप्ति आराधना-साधना महोत्सव का होगा आगाज
Image
कृष्णगिरी में श्री पद्मावती सिद्धि साधना शिविर में गूंजे दिव्य अलौकिक मंत्र / आराध्य और आराधक दोनों में शक्ति जरुरी : राष्ट्रसंत डॉ वसंतविजयजी मसा.
Image
केंद्रीय प्रशिक्षण शिविर योजनांतर्गत बीजेपी पुराना-नयाशहर मंडल का गैर आवासीय प्रशिक्षण शिविरों का आगाज
Image