प्रथम महिला एनसीसी लेफ्निेन्ट बनी डा श्वेता नेहरा का डूंगर कॉलेज में स्वागत, डा. अनिला पुरोहित ने लगाया बैज






बीकानेर 17 दिसम्बर (छोटीकाशी डॉट पेज)। राजस्थान के बीकानेर स्थित डूंगर कॉलेज के भूगोल विभाग की सहायक आचार्य डॉ श्वेता नेहरा ने लेफ्निेन्ट रेंक प्राप्त कर न केवल राजकीय डूंगर महाविद्यालय, बीकानेर बल्कि सातवीं राज एनसीसी बीकानेर की सीनियर विंग की प्रथम महिला एनसीसी अधिकारी बनने का गौरव प्राप्त किया। प्राचार्य डॉ जी पी सिंह ने बताया कि श्रीमती नेहरा ने एनसीसी ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकाडेमी, ग्वालियर द्वारा 14 सितम्बर से 13 दिसम्बर 2020 तक आयोजित प्री कमीशन्ड कोर्स में भाग लिया। डॉ सिंह ने बताया कि महाविद्यालयों में एनसीसी ऑफि सर पद पर नियुक्ति हेतु यह कोर्स अनिवार्य होता है। मीडिया प्रकोष्ठ के डॉ राजेन्द्र पुरोहित ने बताया कि डॉ नेहरा को राजस्थान राज्य एनसीसी निदेशालय का प्रतिनिधित्व करते हुए कोर्स के दौरान आयोजित एक्सरसाइज-अनुभव, युवाशक्ति, दर्शन, शक्ति आदि में अपने उत्कृष्ट प्रदर्शन के कारण कोर्स की उच्चतम ग्रेड एल्फ ा ग्रेड  से नवाजा गया। साथ ही डॉ श्वेता को सर्टिफि केट ऑफ एक्सीलेन्स भी प्रदान किया गया। गुरुवार को महाविद्यालय में डॉ श्वेता का प्राचार्य कक्ष में भावभीना स्वागत किया गया। डूंगर कॉलेज के ही एनसीसी अधिकारी कैप्टेन डॉ राजेन्द्र राजपुरोहित ने डॉ नेहरा को सर्टिफि केट एवं मेडल प्रदान किया। इस अवसर पर डॉ अनिला पुरोहित ने डॉ नेहरा का बैज लगाकर स्वागत किया।  प्राचार्य सहित रूक्टा महामंत्री डॉ विजय ऐरी, उपाचार्य डॉ शालिनी मूलचन्दानी, डा संध्या जैन, डा मीरा श्रीवास्तव, डॉ ए के यादव, डॉ प्रकाश अमरावत, डॉ नरेन्द्र नाथ, डॉ इन्द्र सिंह राजपुरोहित, डॉ अरविन्द शर्मा, डॉ बीरबल राम, डॉ उज्जवल गोस्वामी सहित बड़ी संख्या में संकाय सदस्य उपस्थित रहे।

Popular posts
श्री विश्वशांति एवं महालक्ष्मी कुबेर अनुष्ठान में लिये गये संकल्प का फल राष्ट्रपति से लेकर हर आम इंसान को मिलेगा : राष्ट्रसंत डॉ वसंतविजयजी महाराज
Image
15 हजार 119 व्यापारियों ने लिया वाणिज्यिक कर विभाग की एमनेस्टी स्कीम का लाभ, 42 करोड़ रुपये माफ : हरि सिंह चारण
Image
प्रयागराज-जयपुर एक्सटेंशन बीकानेर ट्रेन को जल्द चलाया जाए, पुरी ट्रेन के खाली रेक को भेजें हरिद्वार
Image
नवाचार के साथ संयुक्त शपथग्रहण समारोह, नारायण चोपड़ा ने श्रावक निष्ठा पत्र का सभी को वाचन करवाया
Image
अभिमंत्रित सिद्ध होने वाले 5 हजार कलश जिस घर में पहुंचेंगे वहां सम्पन्नता, ऐश्वर्य, सुख व समृद्धि का होगा वास
Image