परम पूज्य राष्ट्रसंत डॉक्टर वसंत विजय जी म.सा. की पावन निश्रा में.. 


अष्ट दिवसीय महाभैरव सिद्धि साधना 1 दिसंबर से उज्जैन में 


भैरव अष्टमी महोत्सव पर होगा दिव्य एवं अलौकिक विश्व स्तरीय आयोजन


उज्जैन। मां पद्मावती के परम उपासक, सिद्ध साधक, विश्वविख्यात श्री कृष्ण गिरी शक्तिपीठाधीपति, राष्ट्रसंत, सर्वधर्म दिवाकर परम पूज्य गुरुदेवश्रीजी डॉ वसंत विजय जी महाराज साहेब की पावन निश्रा आगामी 23 नवंबर से अवंतिका नगरी उज्जैन में प्राप्त होगी। गुरुदेवश्रीजी की निश्रा में यहां अष्ट दिवसीय महाभैरव सिद्ध साधना का भैरव अष्टमी महोत्सव 1 दिसंबर से प्रारंभ होगा। राष्ट्रसंत डॉक्टर वसंत विजय जी द्वारा अति विशिष्ट प्रभावशाली अद्भुत साधना 5 लाख कमल पुष्पों के साथ यहां संपन्न होगी। यह आयोजन उज्जैन-इंदौर मार्ग पर शकरवासा ग्राम स्थित त्रिवेणी शनि मंदिर के समीप शांतम आश्रम में होगा। श्री कृष्णगिरी पार्श्व पद्मावती शक्तिपीठ भक्त मंडल की मध्यप्रदेश प्रान्त इकाई (उज्जैन-इंदौर) द्वारा आयोजित इस वृहद स्तर के साधना-भक्ति के कार्यक्रम की जानकारी देते हुए संकेश जैन ने बताया कि 1 दिसंबर से 8 दिसंबर तक भैरव अष्टमी के पावन दिनों में विश्व में पहली बार अति विशिष्ट सवा लाख फल, सवा लाख फूल व सवा लाख रुद्राक्ष आदि से सुसज्जित अति विशिष्ट अलौकिक भैरव मंडप तैयार होगा। इस दौरान कोरोना की सरकारी गाइडलाइंस में 8 दिनों तक अखंड जाप के साथ प्रतिदिन अति विशिष्ट पूजा अनुष्ठान व संध्याकाल में भक्ति एवं विविध मनमोहक आयोजन होंगे। उन्होंने बताया कि इस अवसर पर राजस्थान के प्रसिद्ध ढोल एवं विभिन्न बैंड वाद्य 8 दिनों तक धूम मचाएंगे। अष्ट दिवसीय विशेष हवन-पूजन के बाद अंतिम दिन 8 दिसंबर को भगवान भैरव देव का 1008 निवेद्य का महाभोग अर्पण किया जाएगा। साथ ही 1008 किलोग्राम के मिष्ठान का भोग अर्पित किया जाएगा। पूर्णाहुति पर गुरुदेवश्रीजी की निश्रा में अनुष्ठान होगा। संकेश जैन के मुताबिक गुरुदेव श्रीजी की अनुमति के साथ ही आयोजन से जुड़ने वाले श्रद्धालु भक्तों को सुख समृद्धि वैभव प्राप्ति एवं सांसारिक जीवन की समस्त परेशानियों का निदान होकर भैरव देव की कृपा प्राप्त होगी। इसके लिए रितेश भाई से मोबाइल 8349313511 व सोनू भाई 9827657774 से संपर्क किया जा सकता है।




 


Popular posts
पीएम मोदी के जन्मदिन पर रांका ने 200 मंदिरों में चढ़ाया प्रसाद, लगातार 20 दिन करेंगे सेवा व समर्पण कार्य
Image
रामेश रत्नम का भूमि पूजन शिखर चंद सुराणा के कर कमलों से हुआ
Image
डूंगर काॅलेज में प्रख्यात शिक्षाविद् एवं रसायनज्ञ प्रो. रविन्द्र कुलश्रेष्ठ का सम्मान, पुस्तक आध्यात्मिक अंकुर नाम पुस्तक का भी वितरण
Image
बीकानेर बीएसएफ में अध्यक्षा श्रीमती अंबिका राठौड़ की अगुवाई में हर्षोल्लास से मनाया गया बावा स्थापना दिवस
Image
पूर्व कलेक्टर और आज के मुख्य सचिव निरंजन आर्य से बीकानेर को 'महानगरों से कनेक्टिविटी' कराने की मांग
Image