राज्य के प्राईवेट स्कूलों के संगठन आए एक मंच पर, गिरिराज खैरीवाल मुख्य संयोजक


 


बीकानेर, 15 जुलाई (छोटीकाशी डॉट पेज)। लगातार अपने साथ हो रहे पक्षपात, भेदभाव और अनपेक्षित सरकारी हस्तक्षेप के विरुद्ध अब प्रदेश की गैर सरकारी शिक्षण संस्थाओं के विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों ने एक सामूहिक मंच के माध्यम से सरकार से लोहा लेने हेतु महासंघ शिक्षा बचाओ संयुक्त संघर्ष समिति का गठन किया है। इस संघर्ष समिति में राज्यस्तरीय छह मुख्य संगठन संयुक्त रूप से एकजुट होकर अपने सामूहिक हितों की रक्षा के लिए सरकार से संघर्ष करेंगे। प्राईवेट एज्यूकेशनल इंस्टीट्यूट्स प्रोसपैरिटी एलायंस (पैपा), राजस्थान, बीकानेर, स्कूल क्रांति संघ, जयपुर, स्कूल वेलफेअर एसोसिएशन, राजस्थान  (स्वराज), भरतपुर, राजस्थान प्राईवेट एज्यूकेशन महासंघ, अजमेर, स्कूल एजुकेशन वेलफेअर एसोसिएशन, राजस्थान (सेवा), जयपुर एवं गैर सरकारी स्कूल एवं जनकल्याण संस्थान, अजमेर  इस सामूहिक संयुक्त संघर्ष समिति में सम्मिलित हुए हैं। इस संघर्ष समिति में सर्वसम्मति से 5 मुख्य संयोजक क्रमश: गिरिराज खैरीवाल, बीकानेर, कैलाश शर्मा, अजमेर, हरभान सिंह कुंतल, भरतपुर, कुलदीप अरोड़ा, अजमेर एवं विनोद शर्मा, अलवर होंगे। सुश्री हेमलता शर्मा इस संघर्ष समिति में मुख्य समन्वयक होंगी। राजस्थान प्रतिनिधि मंडल में पूरे राज्य के सभी 33 जिलों से 90 प्रतिनिधियों का चयन किया गया है। समिति द्वारा शीघ्र कार्ययोजना तैयार कर संघर्ष शुरू किया जाएगा। सबसे पहले समिति के तत्वावधान में जिला, तहसील व ब्लाक स्तर पर संबंधित अधिकारियों के मार्फत प्राईवेट स्कूलों की विभिन्न समस्याओं के निराकरण के लिए ज्ञापन दिए जाएंंगे।


Popular posts
केंद्र सरकार ने देश के स्कूलों की मदद करने के लिए एनसीसी को स्व वित्तीय पोषण योजना के रुप में किया आरंभ
Image
बीएसएफ सैक्टर बीकानेर मना रहा गौरवमय 50 वर्ष स्थापना दिवस, सीमा पर तैनात जवानों ने बखूबी फर्ज निभाते हुए बॉर्डर को सुरक्षित रखा
Image
अग्रवाल की बीकानेर शहर के व्यापारियों व उद्योगपतियों से अपील, टीकाकरण वित्तीय सहयोग प्रदान करें
Image
सिद्धि कुमारी ने स्वीकृत किए 1 करोड़, बनेगा ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट : डेढ़ महीने पहले भी स्वीकृत किए थे 1 करोड़
Image
राजा जी फाउण्डेशन ने डिस्पेंसरी में दी इलेक्ट्रोनिक सैनेटाइजन मशीन, बिस्सा भी रहे मौजूद
Image