समाज में घृणा व नफरत फैलाने वाले बालोतरा के कथित बाबा को तुरंत गिरफ्तार किया जाए : आचार्य लोकेशजी


प्रधानमंत्री, गृहमंत्री को आचार्य लोकेशजी ने लिखा पत्र


जयपुर। अहिंसा विश्व भारती के संस्थापक, प्रख्यात जैनाचार्य डॉ लोकेशजी ने प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को पत्र लिखकर समाज में घृणा व नफरत फैलाने वाले एक तथाकथित बाबा को तुरंत गिरफ्तार कर कठोर कानूनी कारवाई करने की मांग की है। उन्होने प्रधानमंत्री को पत्र में लिखा कि यह सर्वविदित है कि जैन समाज अहिंसक व शान्तिप्रिय समाज है। मौजूदा कोरोना महामारी के समय मे विश्व भर के वैज्ञानिक व प्रबुद्धजन स्वास्थ्य के लिए जैन जीवन शैली को उत्तम मान रहे है । ऐसे समय में एक तथाकथित संत मुकनाराम जैन समाज के प्रति घृणा व नफरत भरा विडियो जारी कर कोरोना महामारी के लिए जैन समाज की राक्षसी विद्या को जिम्मेदार ठहराते हुए भोली भाली जनता को गुमराह कर जैन समाज के प्रति भड़का रहा है, जिससे मेरी दीक्षा, शिक्षा व जन्मभूमि क्षेत्र बालोतरा (जिला बाड़मेर) मे भय आशंका व तनाव का माहौल है। देश व दुनिया में बसे लाखो अहिंसक व शांतिप्रिय जैन श्रद्धालुओं की ओर से आचार्य लोकेशजी ने अपने पत्र मे प्रधानमंत्री से आग्रह किया कि समाज में हिंसा, घृणा व नफरत फैलाने वाला तथाकथित यह बाबा मुकनाराम सामाजिक शांति के लिए कोरोना महामारी से भी अधिक घातक साबित हो सकता है। अत: समाज में शांति व सौहार्द भंग ना हो इसलिए इस तथाकथित बाबा के प्रति कठोर कानूनी कारवाई यथाशीघ्र की जाए।
आचार्य लोकेशजी ने प्रधानमंत्री को लिखे अपने पत्र में आशा व्यक्त की शान्तिप्रिय जैन समाज की भावनाओं के मद्देनजर प्रधानमंत्री, गृहमंत्री अमित शाह व राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को तत्काल कारवाई करने हेतु निर्देश प्रदान करेंगे।


Popular posts
पीएम मोदी के जन्मदिन पर रांका ने 200 मंदिरों में चढ़ाया प्रसाद, लगातार 20 दिन करेंगे सेवा व समर्पण कार्य
Image
रामेश रत्नम का भूमि पूजन शिखर चंद सुराणा के कर कमलों से हुआ
Image
डूंगर काॅलेज में प्रख्यात शिक्षाविद् एवं रसायनज्ञ प्रो. रविन्द्र कुलश्रेष्ठ का सम्मान, पुस्तक आध्यात्मिक अंकुर नाम पुस्तक का भी वितरण
Image
बीकानेर बीएसएफ में अध्यक्षा श्रीमती अंबिका राठौड़ की अगुवाई में हर्षोल्लास से मनाया गया बावा स्थापना दिवस
Image
पूर्व कलेक्टर और आज के मुख्य सचिव निरंजन आर्य से बीकानेर को 'महानगरों से कनेक्टिविटी' कराने की मांग
Image