क्रेडिट आउटरीच कार्यक्रम आयोजित : 23 बैंकों की भागीदारी, 300 से अधिक लाभार्थी और 450 करोड़ के लोन प्रदान




बीकानेर (सीके न्यूज/छोटीकाशी)। राजस्थान में बीकानेर जिला अग्रणी बैंक द्वारा रानी बाजार औद्योगिक क्षेत्र स्थित जिला उद्योग संघ सभागार में क्रेडिट आउटरीच कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें सार्वजनिक और निजी क्षेत्र में जिले में कार्यरत 23 बैंकों ने भागीदारी निभाई। इस दौरान एमएसएमई, हाउसिंग, कार, खुदरा तथा सरकारी वित्त पोषित योजनाओं के 300 से अधिक लाभार्थियों को लगभग 450 करोड़ रुपये के लोन प्रदान किए गए। एसबीआई के डीजीएम सुशील कुमार, अग्रणी जिला प्रबंधक एम.एम.एल.पुरोहित ने बताया कि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला कलक्टर नमित मेहता ने कहा कि जरूरतमंद व्यक्तियों को समाज की मुख्यधारा से जोडऩे के लिए सरकार द्वारा चलाई जाने वाली विभिन्न ऋण योजनाओं का सभी बैंक प्रभावी क्रियान्वयन करें। इसके लिए शाखावार लक्ष्य निर्धारित किए जाएं तथा उच्च स्तर पर इसकी नियमित समीक्षा हो। उन्होंने कहा कि प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत आयोजित हो रहे शिविरों में इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के तहत अधिक से अधिक पात्र लोगों को लाभान्वित करने के प्रयास किए जाएं। इसमें जिला प्रशासन के सभी विभागों का प्रभावी सहयोग रहेगा। उन्होंने क्रेडिट आउटरीच कार्यक्रम को अच्छी पहल बताया तथा कहा कि बढ़ती हुई बैंकिंग सेवाओं का अधिक से अधिक लोग लाभ उठाएं। बैंकर्स भी इसमें सकारात्मक भागीदारी निभाई। एसबीआई के उप महाप्रबंधक सुशील कुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमण के दौर में देश की अर्थव्यवस्था लगभग रुक गई। अनेक लघु कुटीर उद्योग बंद हो गए। इस दौर में निचली इकाइयां सबसे अधिक प्रभावित हुई। इन्हें संबल देने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा क्रेडिट आउटरीच कार्यक्रम प्रारंभ किया गया है। समाजसेविका श्रीमती वर्षा तनु ने आरसेटी द्वारा पुलिस कार्मिकों के परिजनों के लिए आयोजित किए जा रहे रोजगार परक प्रशिक्षण को उपयोगी बताया तथा कहा कि ऐसे प्रयासों से असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों को संगठित रूप से काम करने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि बैंकों द्वारा महिलाओं को स्वावलम्बी बनाने की दिशा में अधिक से अधिक कार्य करना चाहिए।

अग्रणी जिला प्रबंधक एम.एम.एल पुरोहित ने बताया कि त्योहारी सीजन को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा 16 से 31 अक्टूबर तक क्रेडिट आउटरीच कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। इसका मुख्य उद्देश्य लोन प्रवाह को बढ़ाते हुए जरूरतमंद लोगों की सहायता करना हैं। उन्होंने कहा कि इसके लिए बीकानेर सहित पांच जिलों में मेगा कैम्प आयोजित किए गए। जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष द्वारका प्रसाद पचिसिया, पीएनबी के जोनल हेड संजीव कुमार, बैंक ऑफ  बड़ौदा के सहायक महाप्रबंधक योगेश यादव ने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम में आईसीआईसीआई बैंक के सहायक महाप्रबंधक बृजमोहन बाहेती, एचडीएफसी के सर्किल विक्रम सिंह, एसबीआई के सहायक महाप्रबंधक हरीश राजपाल, अनिल शाहा, रमेश अग्रवाल तथा वीरेन्द्र किराडू मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन ज्योति प्रकाश रंगा ने किया। इससे पहले कलक्टर ने बैंकों और सरकारी विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। प्रदर्शनी में विभिन्न बैंकों और सरकारी विभागों द्वारा 14 स्टॉल्स लगाए गए। वहीं विभिन्न ऋण योजनाओं के आवेदन भी भरवाए गए।

Popular posts
माल यातायात को बढावा देने के उद्देश्‍य से मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय में बिजनेस डवलपमेंट यूनिट(बीडीयू) मीटिंग
Image
बीएसएफ के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. घनश्याम दास 31 वर्ष की सेवा के उपरांत सेवानिवृत्त, डीआईजी पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ ने दी शुभकामनाएं
Image
श्रीराम सुपर 111 और 1-एसआर-14 गेहूं बीज राजस्थान के किसानों को दे रहा है बेहतर उत्पादकता !
Image
कैमल इको टूरिज्म को बढ़ावा देने हेतु एनआरसीसी के महत्ती प्रयास, रोशनी युक्त सौन्दर्यकरण बेल आकृति लोकार्पित
Image
बीकानेर में दमखम दिखाने वाले चयनित पावर लिफ्टर खिलाड़ी राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में लेंगे हिस्सा!
Image