पुष्करणा समाज का ओलम्पिक वेडिंग 'भवानीशंकर-अम्बिका' नाम से 18 फरवरी की घोषणा, रमक झमक युवाओं को प्रेरित करेगी
{FILE PHOTO}






सीके न्यूज। छोटीकाशी। बीकानेर। देश के पुष्करणा ब्राह्मण समाज का राष्ट्रीय सामूहिक शादीयों का आयोजन 'ओलम्पिक वेडिंग सावा' बीकानेर में 18 फरवरी 2022 को होना तय हो गया है। व्यासों की सावा कमेटी द्वारा शिव मंदिर में इसके लिये समाज के विद्वानों का शास्त्रार्थ रखा गया जो शुक्रवार देर रात 5 घण्टे तक चला फिर देर रात्रि 2 बजे सामुहिक निर्णय लेते हुए 18 फरवरी को होने का फाईनल हुआ। सावा कमेटी द्वारा ओलम्पिक 'सावा' कार्यक्रम की विस्तृत सूची धन त्रयोदशी [धनतेरस] को जारी की जाएगी। आपको बता दें कि इस सावा में हर दूल्हा विष्णु गणवेश व हर दुल्हन लक्ष्मी स्वरूप में होती है। गोधूलि लग्न में दूल्हा पैदल शादी के लिये नंगे पांव जाता है। बेंड बाजों का कोई स्थान नहीं। पूरा बीकानेर शहर परकोटा ही एक पंडाल नजर आता है। एक ही दिन गोधूलि मुहूर्त में सेकड़ों शादियां होती है। इस बार लग्न पत्रिका में हर दूल्हे का नाम भवानीशंकर और दुल्हन का नाम अम्बिका रहेगा। ओलंपिक शादियों के इस सामूहिक आयोजन को विश्व स्तर पर पहचान दिलाने वाली तथा सेवा सस्कृति से जुड़ी हर सुविधा नि: शुल्क देने वाली सामाजिक संस्था 'रमक झमक' के अध्यक्ष प्रहलाद ओझा 'भैरु' के अनुसार सावा तिथि व्यास जाति की सावा कमेटी द्वारा घोषणा के साथ ही रमक झमक द्वारा सावा सेवा व सुविधा के साथ विश्व स्तर पर प्रचार प्रसार व लोगों को जोडऩे का सिलसिला शुरू हो जाता है, इस बार दीपावली के बाद अच्छे मुहूर्त में सावा गतिविधियां शुरू कर दी जाएगी। हर बार की तरह इस बार भी परम्परागत विष्णु रूप में ब्याह करने वाले दूल्हों का बारह गुवाड़ चौक में सम्मान करेगी। रमक झमक के अध्य्क्ष प्रहलाद ओझा 'भैरु' ने बताया कि शादी ओलंपिक में इस बार विशेष तौर पर तीन बिंदुओं पर विशेष काम किया जाएगा। जिसमें विश्व स्तर पर सजातीय बन्धुओं से शादी ओलम्पिक परम्परा की अवधि को लेकर एवं तिथि घोषणा पर विश्व पुष्करणा समाज से विभिन्न माध्यमों से सुझाव आमंत्रित करेगी। दूसरा यह कि पुष्करणा के अलावा देश के लगभग हर समाज के लोगों भी इस बार बड़े स्तर पर जुड़े इसका का प्रयास करेगें। तीसरा यह कि सावा में अधिक से अधिक तथा परम्परागत वेश में ही शादियां हो इसके लिये रमक झमक युवाओं को प्रेरित करेगी उत्साहवद्र्धन के कदम उठाएगी। {FILE PHOTO}

Popular posts
माल यातायात को बढावा देने के उद्देश्‍य से मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय में बिजनेस डवलपमेंट यूनिट(बीडीयू) मीटिंग
Image
बीएसएफ के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. घनश्याम दास 31 वर्ष की सेवा के उपरांत सेवानिवृत्त, डीआईजी पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ ने दी शुभकामनाएं
Image
श्रीराम सुपर 111 और 1-एसआर-14 गेहूं बीज राजस्थान के किसानों को दे रहा है बेहतर उत्पादकता !
Image
कैमल इको टूरिज्म को बढ़ावा देने हेतु एनआरसीसी के महत्ती प्रयास, रोशनी युक्त सौन्दर्यकरण बेल आकृति लोकार्पित
Image
बीकानेर में दमखम दिखाने वाले चयनित पावर लिफ्टर खिलाड़ी राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में लेंगे हिस्सा!
Image