केंद्रीय शुष्क बागवानी संस्थान का स्थापना दिवस : बागवानी फसलों का बढ़ता रिकॉर्ड उत्पादन, क्षेत्र में हो रहा बहुत अच्छा कार्य!





BIKANER सीके न्यूज। छोटीकाशी। भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के केंद्रीय शुष्क बागवानी संस्थान का 28 वां स्थापना दिवस मनाया गया। संस्थान के निदेशक प्रो डॉ पी एल सरोज ने बताया कि बतौर मुख्यातिथि परिषद के बागवानी विज्ञान के उप महानिदेशक डा. आनंद सिंह सिंह ने कहा कि संस्थान द्वारा विकसित तकनीकियों को उचित माध्यम से उचित स्थान पर पहुंचाने का प्रयास किया जाना उतना ही आवश्यतक है जितना कि तकनीकियां विकसित करना। संस्थान के अनुसंधान कार्यों की सरहाना करते हुए उन्होंने कहा कि संस्थान द्वारा विकसित प्रजातियों का विकास किसानों को अधिक से अधिक मिले और उनकी आय में इनसे वृद्धि परिलक्षित हो। बागवानी फसलों के बढ़ते उत्पादन पर प्रसन्नता प्रकट करते हुए उन्होंने कहा कि देश में बागवानी फसलों का रिकॉर्ड उत्पादन इस बात का प्रमाण है कि बागवानी के क्षेत्र में बहुत कार्य हो रहा है। उन्होंने तकनीकी विकास में नवीन डिजिटल तकनीकी के समावेश की बात करते हुए जलवायु परिवर्तन के इस दौर में उसकी प्रासंगिता पर जोर दिया। इससे पहले कवि सम्मेलन में बीकानेर की जानी-मानी कवियित्री प्रमिला गंगल एवं हास्य कवि बाबूलाल छंगाणी ने कविता पाठ किया। कार्यक्रम में संस्थान के डॉ दीपक कुमार सरोलिया, डॉ अजय कुमार वर्मा, डॉ कमलेश कुमार तथा डॉ महेन्द्र कुमार ने अपनी कविताओं का पाठ किया। बीकानेर तकनीकी विश्वंविद्यालय के कुलपति डॉ अम्बवरीश एस विद्यार्थी ने कहा कि यह संस्थान बहुत अच्छास कार्य कर रहा है। उन्होंने वैज्ञानिकों से कहा कि इस प्रकार की किस्मों का विकास होना चाहिए जिसमें पानी का प्रयोग कम हो और उस वृक्ष का प्रत्ये‍क भाग किसी न किसी काम आए। डॉ विक्रमादित्य पान्डे, सहायक महानिदेशक (बागवानी विज्ञान), भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, नयी दिल्ली ने भी विचार रखे। इससे पूर्व उपस्थित अतिथियों एवं किसानों का स्वाागत करते हुए संस्थान के निदेशक प्रो डॉ पी एल सरोज ने विगत 28 वर्षों में किए गये अनुसंधान कार्यों और विकसित की गयी किस्मों के बारे में विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि फलदार पौधे तथा काचरी, ककड़ी, फ्रूट ककड़ी, मतीरा, सांगरी आदि सब्जी फसलें अपनानी चाहिए। संस्थान के 28वें स्था पना दिवस के अवसर पर पांच प्रगतिशील किसानों को भी सम्माानित किया गया। प्रगतिशील किसानों में ग्राम खींचिया के मुकेश कुमार पारीक, ग्राम 6 पीबी पूगल के दिग्विजय सिंह राठौड़, ग्राम आम्बासर के प्रभु सिंह गहलोत, ग्राम मेघासर के आसकरण उपाध्याय, ग्राम गीगासर के मांगी लाल मेघवाल तथा बीकानेर के  गोविंद राम गोदारा को सम्मान पत्र एवं अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया गया। मंच संचालन एवं धन्यवाद ज्ञापन डॉ बी डी शर्मा ने किया।

Popular posts
दरबार गढ़ पोशिना बाघेला जागीर के कुंवर हरेंद्रपाल सिंह ने देखा जूनागढ़, मां करणी के दर्शन कर हो गए इम्प्रेस....
Image
केंद्रीय मंत्री अर्जुन की घोषणा, बीकानेर में प्रस्तावित सांईस सेन्टर रक्षा वैज्ञानिक रहे डॉ एच पी व्यास के नाम पर होगा
Image
श्रद्धा पूर्वक करें मां की भक्ति, मिलेगा सुख-समृद्धि और शक्ति : आचार्यश्री श्रीनिवास श्रीमाली / श्री सिद्धेश्वर तीर्थ तिरुपति में श्री नवरात्रि महामहोत्सव का विसर्जन के साथ समापन
Image
मेहाई मेडिकल द्वारा आयोजित कैम्प में डॉ योगेश देंगे अपनी निःशुल्क सेवा और मात्र 50 रुपये में होगी मधुमेह के HBA1C जांच
Image
ब्रम्हर्षि आश्रम तिरुपति में महाचंडी महायज्ञ के साथ श्रीनवरात्रि महामहोत्सव संपन्न, जूम ऑनलाइन पर जुड़े देश और दुनिया के अनेक गुरुभक्त
Image