सीआईएएच में हिंदी पखवाड़े का समापन : प्रो. गर्ग, डा. ब्रजरतन, डा. सरोज ने रखे विचार




CK NEWS/CHHOTIKASHI BIKANER : राजस्थान में वेटरनरी विवि के कुलपति प्रो. सतीश कुमार गर्ग ने गुरुवार को बीकानेर में हिंदी भाषा के महत्व को समझाते हुए कहा कि राजभाषा के रुप में वास्तविक उद्देश्य की पूर्ति नहीं हो पा रही है। हिंदी को जो स्थान प्राप्त होना था, वह आज 75 वर्षों के बाद भी प्राप्त नहीं हुआ। इसके लिए हमें बाहरी देशों का उदाहरण देखना चाहिए जिन्होंने अपनी भाषा को नहीं बिसराया। हम हिंदी भाषा को लेकर हीन भावना से ग्रसित हो जाते हैं जो हमें त्यागना होगा।  प्रो. गर्ग भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के केंद्रीय शुष्क बागवानी संस्थान में आयोजित हिंदी पखवाड़े के समापन पर बोल रहे थे। इस आयोजन में विभिन्न प्रतियोगिताएं रखी गयीं थी जिनमें संस्थान के वैज्ञानिकों सहित कार्मिकों ने भाग लिया। हिंदी पखवाड़े के कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए राजभाषा अधिकारी प्रेम प्रकाश पारीक ने बताया कि विशिष्ट अतिथि डॉ ब्रजरतन जोशी, सह आचार्य, डूंगर महाविद्यालय बीकानेर ने कहा हिंदी भाषा के प्रचार में हम सफल हो रहे होंगे, परन्तु इस सफलता की सार्थकता संदिग्ध है। हिंदी भाषा जितनी वैज्ञानिकता से परिपूर्ण है उतनी संसार में अन्य कोई भाषा नहीं है। संस्थान के निदेशक प्रो डॉ पी.एल. सरोज ने कहा कि भाषा संस्कृति की संवाहक होती है। भाषा से किसी देश की संस्कृरति की झलक प्राप्त होती है। अत: भाषा का स्थान बहुत ही महत्व का होता है। 

हिंदी पखवाड़े के कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए राजभाषा अधिकारी प्रेम प्रकाश पारीक ने बताया कि इस दौरान कुल छ: प्रतियोगिताएं आयोजित की गयी थी। हिंदी सामान्‍य ज्ञान प्रतियोगिता में वैज्ञानिक गर्व में प्रथम स्‍थान पर डॉ. अजय कुमार वर्मा, द्वितीय स्‍थान पर संयुक्‍त रूप से डॉ. चेतराम एवं डॉ. कमलेश कुमार और तृतीय स्‍थान पर संयुक्‍त रूप से डॉ. किशन लाल कुमावत और डॉ पवन सिंह गुर्जर रहे। प्रशासनिक वर्ग में प्रथम स्‍थान पर कुलदीप पान्‍डे, द्वितीय स्‍थान पर स्‍वरूप चंद राठौड़ और तृतीय स्‍थान पर राजेश कुमार दैया रहे। तकनीकी वर्ग में प्रथम स्‍थान पर संजय पाटिल रहे। इसी प्रकार एसआरएफ वर्ग में डॉ. पवन कुमार पारीक प्रथम और लोकेश कुमार द्वितीय स्‍थान पर रहे। यूनिकोड हिंदी टंकण प्रतियोगिता में प्रथम स्‍थान पर डॉ. अजय कुमार वर्मा एवं द्वितीय डॉ रामकेश मीणा रहे। सम सामयिक विषय पर लेख प्रतियोगिता में प्रथम स्‍थान पर डॉ. दीपक कुमार सरोलिया द्वितीय रूपचंद बलाई और तृतीय स्‍थान पर डॉ. रेखा रानी रहीं। हिंदी में अंत्‍याक्षरी में दल 'अ' प्रथम, दल 'स' द्वितीय और दल 'द' तृतीय स्‍थान पर रहे। बच्‍चों की चि‍त्रकला प्रतियोगिता में बड़ी कक्षा समूह में प्रथम स्‍थान पर कु. अवंतिका, द्वितीय कु. भाविका और तृतीय कु. रितिका रहीं। छोटी कक्षा समूह में प्रथम स्‍थान पर कु. जागृति द्वितीय चिं. यशवर्धन रहे। इसी प्रकार हिंदी शब्‍द लेखन प्रतियोगिता में वर्ग के आधार पर प्रतिभागियों को रखा गया था। वैज्ञानिक वर्ग में प्रथम स्‍थान पर डॉ. हनुमान राम द्वितीय स्‍थान पर डॉ. अजय कुमार वर्मा और तीसरे स्‍थान पर डॉ. पवन कुमार गुर्जर, वैज्ञानिक रहे। तकनीकी वर्ग से प्रथम स्‍थान पर छुट्टन लाल मीणा और दूसरे स्‍थान पर संजय पाटिल रहे। प्रशासनिक वर्ग से प्रथम स्‍थान पर स्‍वरूप चंद राठौड़, सहा. प्रशासनिक अधिकारी, दूसरे स्‍थान पर श्रीमती पूजा जोशी और तीसरे स्‍थान पर कुलदीप पान्‍डे रहे। आर.ए तथा वाईपी वर्ग से प्रथम स्‍थान पर डॉ. पवन कुमार पारीक द्वितीय स्‍थान पर आत्‍मा राम रहे। इसके अतिरिक्‍त कुछ कार्मिकों और बच्‍चों को सांत्‍वना पुरस्‍कार भी दिया गया।

कार्यक्रम का समापन सभी को आभार व्‍यक्‍त करने के साथ किया गया।             

Popular posts
दरबार गढ़ पोशिना बाघेला जागीर के कुंवर हरेंद्रपाल सिंह ने देखा जूनागढ़, मां करणी के दर्शन कर हो गए इम्प्रेस....
Image
केंद्रीय मंत्री अर्जुन की घोषणा, बीकानेर में प्रस्तावित सांईस सेन्टर रक्षा वैज्ञानिक रहे डॉ एच पी व्यास के नाम पर होगा
Image
श्रद्धा पूर्वक करें मां की भक्ति, मिलेगा सुख-समृद्धि और शक्ति : आचार्यश्री श्रीनिवास श्रीमाली / श्री सिद्धेश्वर तीर्थ तिरुपति में श्री नवरात्रि महामहोत्सव का विसर्जन के साथ समापन
Image
मेहाई मेडिकल द्वारा आयोजित कैम्प में डॉ योगेश देंगे अपनी निःशुल्क सेवा और मात्र 50 रुपये में होगी मधुमेह के HBA1C जांच
Image
ब्रम्हर्षि आश्रम तिरुपति में महाचंडी महायज्ञ के साथ श्रीनवरात्रि महामहोत्सव संपन्न, जूम ऑनलाइन पर जुड़े देश और दुनिया के अनेक गुरुभक्त
Image