केरला डीजी जेल आईपीएस ऋषिराज सिंह बीकानेर में अपने अभिनंदन समारोह में बोले ; ड्रग्स के सेवन पर रोकथाम के लिए कैडेट्स करे विशेष सहयोग







बीकानेर, 26 मार्च (सीके न्यूज/छोटीकाशी)। राजस्थान में बीकानेर संभाग मुख्यालय के सबसे बड़े राजकीय डूंगर महाविद्यालय के पूर्व छात्र व वर्ष 1985 बैच के आईपीएस अफसर ऋषिराज सिंह का शुक्रवार को कॉलेज में स्वागत, अभिनंदन किया गया। सिंह वर्तमान में केरल में पुलिस महानिदेशक जेल के पद पर कार्यरत है। प्राचार्य डॉ जी.पी सिंह ने बताया कि इस अवसर पर पूर्व प्राचार्य एवं कॉलेज एल्युमनाई की अध्यक्ष डॉ कृष्णा तोमर, सहायक निदेशक डॉ राकेश हर्ष, वरिष्ठ संकाय सदस्य डॉ इन्द्र सिंह राजपुरोहित, डॉ राजेन्द्र पुरोहित, छात्र नेता कृष्ण गोदारा, रामनिवास कूकणा सहित अनेक संकाय सदस्यों ने सिंह का वेलकम किया। आईपीएस सिंह ने अपने उद्बोधन में केरल राज्य में कोरोना नियंत्रण में ट्रेंसिंग, ट्रेकिंग एवं ट्रीटमेन्ट पद्धति का विशेष रूप से उल्लेख किया। ऋषिराज सिंह ने स्कूलों और कॉलेजों में ड्रग्स के सेवन की बढ़ती प्रवृति पर गहरी चिन्ता व्यक्त करते हुए इसके रोकथाम हेतु एनएसएस एवं एनसीसी के कैडेट्स से विशेष सहयोग करने की अपील की। उन्होनें कहा कि ग्रामीण क्षेण में आज भी महिला अशिक्षा एक गम्भीर समस्या है जिसमें भी एनएसएस स्वयं सेवकों को महती भूमिका निभानी होगी। उन्होनें कहा कि केरल में आज भी लड़कों की तुलना में लड़कियों की संख्या अधिक है। छात्राओं से सीधे संवाद करते हुए उन्होनें कहा कि आज जरूरत है कि महिलायें स्वयं अपनी सुरक्षा करने से परहेज नहीं करें। उन्होने कॉलेज प्राचार्य से महिला सुरक्षा संबंधी उपायों पर और अधिक कार्य करने की अपील की। इस अवसर पर प्राणीशास्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ राजेन्द्र पुरोहित, डॉ विक्रमजीत, डॉ बबीता जैन, डॉ जयशंकर आचार्य, डॉ सत्यनारायण जाटोलिया, डॉ सुरेन्द्र पाल मेघ सहित बड़ी संख्या में महाविद्यालय के संकाय सदस्य एवं विद्यार्थीगण उपस्थित रहे।

Popular posts
देश का नाम रोशन करने वाले ख्याति प्राप्त गोल्फर पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ के दिशा-निर्देशन में बीकानेर का पहला और एकमात्र गोल्फ कोर्स शुरु
Image
आशापुरा पोकरण के लिए बसें रवाना, राजकुमार व्यास बोले ; माता के दरबार में मनाया जाता है नवरात्रा उत्सव
Image
ब्रम्हर्षि आश्रम तिरुपति में महाचंडी महायज्ञ के साथ श्रीनवरात्रि महामहोत्सव संपन्न, जूम ऑनलाइन पर जुड़े देश और दुनिया के अनेक गुरुभक्त
Image
राष्ट्रीय उष्ट्र अनुसंधान केंद्र (एनआरसीसी) देगा ऊंट के बालों से पारंपरिक उत्पाद बनाने का प्रशिक्षण
Image
श्रीकृपा व्यास के मुखारविंद से भागवत कथा शुरु : राजेश चूरा, मीना आचार्य व अमित व्यास ने किया दीप प्रज्जवलन
Image