एनएफएसए के चयनितों को अप्रैल के प्रथम सप्ताह में हो जाए गेहूं वितरण-गौतम जिला कलक्टर ने उपखंड अधिकारियों को वीसी कर दिए निर्देश कोरोना वायरस संदिग्ध मिले तो तुरंत सूचना देने के निर्देश


बीकानेर, 23 मार्च।  जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम ने कहा कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून (एनएफएसए) के तहत चयनित सभी व्यक्तियों को अप्रैल के प्रथम सप्ताह में गेहूं का निशुल्क वितरण हो जाए इसकी समुचित व्यवस्था उपखंड अधिकारी अपने स्तर पर कर लें। साथ ही नहर बंदी के दौरान पानी का भंडारण और उसका उपयोग बेहतर तरीके से हो इसके लिए भी सभी अधिकारी पूर्ण मुस्तैदी के साथ कार्य करेंगे।
जिला कलक्टर गौतम ने सोमवार को  jktho xka/kh lsok dsUnz  से जिले के सभी उपखंड अधिकारियों के साथ वीडियो काॅन्फ्रसिंग के जरिए ये निर्देश दिए। गौतम ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण की सभी संभावनाएं समाप्त हो इसके लिए लाॅक डाउन के दौरान आवश्यक वस्तुओं के अतिरिक्त सभी दुकानें और अन्य प्रतिष्ठान बंद रहें। लोगों से समझाइस करें कि अनावश्यक रूप से बाहर ना निकले। लाॅक डाउन के दौरान धारा 144 का पूरी तरह से पालन हो। 5 या इससे अधिक लोग समूह में किसी भी सार्वजनिक स्थान पर एकत्र ना हो यह सुनिश्चित किया जाए।
जिला कलक्टर ने बताया कि सभी उपखंड क्षेत्रों में कानून व्यवस्था संधारित रहे और जरूरतमंद को भोजन मिलता रहे, इसकी मॉनिटरिंग के लिए मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद नरेंद्र पाल सिंह  को प्रभारी बनाया गया है। इसी तरह शहरी क्षेत्र में संपूर्ण व्यवस्थाओं का जिम्मा अतिरिक्त जिला कलेक्टर (शहर) सुनीता चैधरी को दिया गया है। ग्रामीण और शहरी क्षेत्र की संपूर्ण व्यवस्था लाॅ एंड ऑर्डर, कोरोना संक्रमण को रोकने और गेहूं वितरण समय पर करवाने आदि के लिए एडीएम ए को प्रभारी बनाया गया है।
गौतम ने सभी उपखंड अधिकारियों से कहा कि वह मंगलवार को एक बार फिर अपने अपने क्षेत्र के सभी ग्राम पंचायतों के जनप्रतिनिधियों, जिला परिषद सदस्य और प्रधान के साथ मीटिंग कर लें। बैठक में स्थानीय एनजीओ सामाजिक संस्थाओं के पदाधिकारियों के साथ भी चर्चा करें। इस बात की विशेष निगरानी रखें कि उनके क्षेत्र में राज्य या जिले के बाहर का कोई आदमी आए तो इसकी तत्काल सूचना की जाए और उसके स्वास्थ्य का परीक्षण भी करवाया जाए। सभी अधिकारी कर्मचारी मुख्यालय पर रहकर कर्तव्य का निर्वहन करेंगे । अगर किसी कर्मचारी द्वारा बिना किसी अनुमति के मुख्यालय छोड़ा तो वर्तमान परिस्थितियों में उसके विरुद्ध एफ आई आर दर्ज करवाई जाएगी।
चिकित्सकों की नियुक्ति होगी शीघ्र
 वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जिले के कुछ उपखंड अधिकारियों ने बताया कि उनके क्षेत्र में चिकित्सकों की कमी है। इस पर गौतम ने बताया कि मंगलवार तक चिकित्सकों की नियुक्ति का कार्य हो जाएगा और इसके साथ ही जिले की समस्त पीएसी और सीएसई में चिकित्सकों की तैनाती कर दी जाएगी।
बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ए एच गौरी, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) सुनीता चैधरी, नगर विकास न्यास सचिव मेघराज सिंह मीना, सीएमएचओ डाॅ बी एल मीना, सहित विभिन्न अधिकारी उपस्थित थे।
स्वयं सेवी संस्थाओं के साथ की बैठक
जिला कलक्टर ने सोमवार को ही स्वयं सेवी संगठनों के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में जिला कलक्टर गौतम ने कहा कि इस संकट की घड़ी में स्वयं सेवी संस्थाएं मदद के लिए स्वयं सेवक के रूप में तैयार रहें। इस पर स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने प्रशासन को हर संभव मदद का आश्वासन दिया। बैठक में  लाॅयस क्लब, रोटरी, श्री दिव्य आयु हेल्थ  ट्रस्ट, रेडक्राॅस , महावीर इंटरनेशनल, अवर फाॅर नेशन तथा उरमूल ट्रस्ट के प्रतिनिधि उपस्थित थे।


Popular posts
पीएम मोदी के जन्मदिन पर रांका ने 200 मंदिरों में चढ़ाया प्रसाद, लगातार 20 दिन करेंगे सेवा व समर्पण कार्य
Image
रामेश रत्नम का भूमि पूजन शिखर चंद सुराणा के कर कमलों से हुआ
Image
डूंगर काॅलेज में प्रख्यात शिक्षाविद् एवं रसायनज्ञ प्रो. रविन्द्र कुलश्रेष्ठ का सम्मान, पुस्तक आध्यात्मिक अंकुर नाम पुस्तक का भी वितरण
Image
बीकानेर बीएसएफ में अध्यक्षा श्रीमती अंबिका राठौड़ की अगुवाई में हर्षोल्लास से मनाया गया बावा स्थापना दिवस
Image
पूर्व कलेक्टर और आज के मुख्य सचिव निरंजन आर्य से बीकानेर को 'महानगरों से कनेक्टिविटी' कराने की मांग
Image