जिंक फुटबॉल यूथ टूर्नामेंट में हनुमानगढ़ की लगभग 200 फुटबॉल प्रतिभाओं ने दिखाया हूनर



 


टूर्नामेंट का पहले चरण के समापन, दूसरा चरण मई 2020 में होगा


हनुमानगढ़। राजस्थान की सर्वश्रेष्ठ युवा फुटबॉल प्रतिभाओं को फुटबॉल खेल के लिए पहचान कर, अवसर उपलब्ध कराने और देश की टीम में स्थान दिलाने के उद्धेश्य से आयोजित जिंक फुटबॉल यूथ टूर्नामेंट महाकुंभ का पहला चरण हनुमानगढ़ में सम्पन्न हुआ। राजकीय नेहरू मेमोरियल लॉ कॉलेज के मैदान में आयोजित इस टूर्नामेंट को राजस्थान फुटबॉल एसोसिएशन के साथ मिलकर हिंदुस्तान जिंक द्वारा आयोजित किया गया। इसमें कुल 15 टीमें हनुमानगढ़ में फुटबॉल का चैंपियन बनने के लिए कड़े मुकाबले में उतरी। मुख्य अतिथि जिला कलेक्टर जाकिर हुसैन, जनसम्पर्क अधिकारी सुरेश बिश्नोई,  जिला कोषाध्यक्ष सुनील ढाका, अध्यक्ष, हनुमानगढ़ नगर निगम गणेशराज बंसल,  उपाध्यक्ष अनिल खीचड़, सचिव गुलजार अहमद, भटनेर फुटबॉल क्लब, प्रबधंक प्रशासन चंदेरिया लेड जिं़क स्मेल्टर हिंदुस्तान जिंक ऋषिराज शेखावत थे।
मीट एफसी गंगानगर और भटनेर एफसी हनुमानगढ़ ने बालक और बालिका वर्ग में क्रमशः जुलाई में जावर स्टेडियम में आयोजित होने वाले राज्य चैम्पियनशिप के लिए खिताब जीता, जहां राजस्थान के अंतिम चैंपियन का निर्धारण करने के लिए हर क्षेत्र के विजेताओं का मुकाबला होगा। मीट एफसी ने टाई-ब्रेकर में भटनेर एफसी को समान रूप से लड़े फाइनल में हराया जो कि पूरे समय के बाद 1-1 से बराबरी पर छूटा। गर्ल्स फाइनल में भटनेर एफसी ने जीएसएस पदमपुर को 5-0 से हराकर जीत हासिल की। पूरे टूर्नामेंट में भटनेर एफसी की ऋतू और मनप्रीत कौर ने पांच-पांच गोल किए।
टूर्नामेंट के बारे में हिंदुस्तान जिंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनील दुग्गल ने कहा कि जिंक फुटबाल प्रोजेक्ट शुरू करने के बाद से ही यह टूर्नामेंट हमारा महत्वपूर्ण सपना था। मैं बहुत खुश हूं कि बच्चों को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक प्लेटाफार्म मिल गया है और इनमें से श्रेष्ठ चुनकर आगे जाएगा। यह बस एक शुरुआत है और हम आने वाले समय में अधिक से अधिक बच्चों को उनकी श्रेष्ठ प्रतिभा के साथ आगे लाना चाहते हैं। राजस्थान फुटबाल संघ के सचिव दिलीपसिंह शेखावत ने कहा कि जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट राजस्थान में फुटबाल की दिशा में एक मील का पत्थर है। हम इस बड़ी पहल के लिए हिंदुस्तान जिंक से जुडकर खुश हैं। इस तरह की पहल इससे पहले कभी नहीं हुई। मैं यह देखकर खुश हूं उदयपुर, राजसमंद, और बीकानेर के बाद हनुमानगढ़ में फुटबॉल प्रतिभाएं बडे स्तर पर जुडी। मैं विजेताओं को बधाई देना चाहता हूं और उनसे यह कहना चाहता हूं कि वे राज्य स्तरीय टूर्नामेंट के लिए शानदार तैयारी करें। जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट का मकसद राज्य में फुटबाल की श्रेष्ठ प्रतिभाओं को तलाशना और उन्हें प्रोमोट करना है। जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट का पहला संस्करण छह महीने तक चलेगा। इस टूर्नामेंट में राज्य के 33 जिलों की टीमें हिस्सा लेंगी। इसके लिए 500 से अधिक स्कूलों की टीमें बनेंगी और इससे 15 साल की कम उम्र के 5000 से अधिक लडके और लड़कियों को अपनी प्रतिभा के प्रदर्शन का मौका मिलेगा।




Popular posts
उत्तर-पश्चिम रेलवे कर्मचारी संघ के मंडल अध्यक्ष बने सुनील शादी, अमर सिंह सिहाग मंत्री
Image
उत्तर-पश्चिम रेलवे कर्मचारी संघ का वार्षिक अधिवेशन में बोले अजय कुमार त्रिपाठी ; कर्मचारी हित के विरुद्ध कुछ भी बर्दाश्त नहीं
Image
पुरानी पेंशन स्कीम बहाल, टीटीई स्टाफ को रनिंग अलाऊंस की सुविधा देने सहित 18 सूत्री मांग को लेकर रेलकर्मियों का अधिवेशन 12 को
Image
फ्लोरल हॉस्पिटल में आयोजित ब्लड डोनेशन कैम्प में 101 यूनिट रक्तदान, उत्साहवर्धन करने पहुंचे मंत्री कल्ला सहित अनेक
Image
डूंगर काॅलेज में प्रख्यात शिक्षाविद् एवं रसायनज्ञ प्रो. रविन्द्र कुलश्रेष्ठ का सम्मान, पुस्तक आध्यात्मिक अंकुर नाम पुस्तक का भी वितरण
Image