शिक्षक नेता स्व.भंवर पुरोहित की छठी पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि सभा, संघर्षों के साथ शिक्षकों का सम्मान





बीकानेर, 10 जनवरी। स्व. भंवर पुरोहित स्मृति संस्थान बीकानेर, राजस्थान शिक्षक संघ शेखावत , रूद्र युवा विकास मंच के सानिध्य में, स्व. भँवर पुराहित की छठी पुण्यतिथि पर स्थानीय सुरदासाणी बगेची में सभा का आयोजन किया गया। संगठन के जिलाध्यक्ष संजय पुरोहित नें बताया कि इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में शिशिर  चर्तुवेदी ,अति. निदेषक हरिषचन्द्र लोक प्रषिक्षण संस्थान,बीकानेर, रूक्टा के महामंत्री विजय कुमार ऐरी, शेखावत संघ के प्रदेशाध्यक्ष महावीर सिहाग, प्रदेश महामंत्री उपेन्द्र शर्मा,  प्रो. श्याम सुन्दर ज्याणी, राजकीय डूंगर काॅलेज बीकानेर थे। मुख्य वक्ता के रूप में प्रो. श्याम सुन्दर ज्याणी, राजकीय डूंगर काॅलेज बीकानेर ने आने वाले समय में शिक्षा के समक्ष चुनौतियों का जिक्र किया। रूक्टा के महामंत्री ऐरि ने संगठन की आवश्यकता पर बल देते हुए आम नागरिक को अपने अधिकारों के प्रति सजग रहने हेतु तथा देश की मौजुदा परिस्थितियों का जिक्र करते हुए स्व. भँवर पुरोहित के व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला।
संगठन के प्रदेषाध्यक्ष महावीर सिहाग ने स्व. भँवर पुरोहित के नेतृत्व व कृतत्व पर प्रकाश डाला।  संगठन के महामंत्री उपेन्द्र शर्मा ने स्व पुरोहित के साथ संगठन में अपने कार्य करने के समय को याद किया और संस्मरण सुनाये।कार्यक्रम में ऊर्जा मंत्री डाॅ. बी.डी.कल्ला ने अपने उद्बोधन में स्व. पुरोहित के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उन्हें कर्मचारियों का हितेषी बताया और इस बात पर जोर दिया कि उन्हांेने अपने जीवन काल में बतौर शिक्षक परोपकार एवम् सामाजिक सरोकार के लिए अपना कार्य किया। डाॅ. बुलाकी दास कल्ला नें इस अवसर पर स्व. भंवर पुरोहित को सच्चा शिक्षक हितैषी बताते हुए कहा कि भंवर जी पुरोहित कभी अपने लिये नहीं बल्कि सदैव दुसरों के लिये जीने वाला व्यक्तित्व था उन्होने सदैव पीड़ित व शोषित शिक्षकों व कर्मचारियों के हित के लिये कार्य किया। कार्यक्रम में उन शिक्षक,कर्मचारियों का सम्मान किया गया जिन्होंने पद की गरिमा एवम् मर्यादा के अनुरूप कार्य करते हुए संगठन में स्व भँवर पुरोहित के साथ संघर्षो में सहयोग किया जिनमें महेन्द्र पांडे, कैलाष वैष्णव, श्रीमती दुर्गा वाधवानी, भंवर उपाध्याय, जेठाराम, हरिराम, खुमानाराम आदि थे
कार्यक्रम में पूर्व सहायक निदेशक विजय शंकर आचार्य ने स्व भँवर पुरोहित को अपने विद्यार्थी जीवन का साथी बताते हुए शिक्षक के रूप में तथा संगठन को मजबूत करने में उनकी भूमिका का जिक्र करते हुए ठोस शब्दों में यह प्रमाणित किया कि स्व. पुरोहित जिस समस्या को अधिकारी के समक्ष लेकर जाते उसका समाधान करना जरूरी होता था क्योंकि वो समस्या का समाधान तार्किक रूप से नियमानुसार चाहते थे। इस अवसर पर शिक्षक नेता महेन्द्र पांडे ने स्व पुरोहित के जीवन संघर्ष और संगठन में उनकी कार्य प्रणाली का अपने शब्दों मे जिक्र किया और कहा कि वर्तमान मे ऐसे नेताओं की आवश्यकता है जो निष्पक्ष एवम् पारदर्शी रूप से अपनी बात रखे। संगठन के रेवन्त राम गोदारा ने स्व. पुरोहित के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर अपनी बात कहते हुए जन समूह को यह जानकारी दी कि शिक्षक एवं कर्मचारि हितों के लिए शेखावत संघ के अलावा अन्य संगठनों से भी जिनकी अलग अलग विचारधारा होती है, स्व पुरोहित ने तमाम संगठनों को एक जाजम पर बिठाया और समेकित रूप से समस्याओं का समाधान करने का कहा जो कम ही नेताओं में ऐसी सोच मिलती है       संगठन के जिला मंत्री भंवर पोटलिया, पृथ्वीराज लेघा,श्रीमती लक्ष्मीपाल, किशोर पुरोहित आदि ने अपने विचार रखें। संगठन के जिलाध्यक्ष संजय पुरोहित ने सभी का आभारा व्यक्त किया तथा सम्मानित अतिथियों डाॅ कल्ला द्वारा स्मृति चिन्ह एवम् शाॅल ओढाकर सम्मानित किया। आयोजित सभा में शिक्षक एवम् कर्मचारियों के अलावा अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन डाॅ. अमित पुरोहित के द्वारा किया गया।
Popular posts
युवा प्रोफेशनल व्यापारियों ने उठाया हर धर्म, जाति एवं सम्प्रदाय के कोविड पॉजिटिव व्यक्तियों-जरुरतमंदों के भोजन व्यवस्था का बीड़ा
Image
नगर स्थापना दिवस पर सरिता विमल सुराणा के सहयोग से मास्क वितरित : लोकप्रिय पार्षद दुर्गादास, राजकुमार व्यास ने दी कोरोना गाइड लाइन की हिदायत
Image
"बीकानेर की स्वर्णकला और इसकी वर्तमान स्थिति"
Image
केंद्र सरकार ने देश के स्कूलों की मदद करने के लिए एनसीसी को स्व वित्तीय पोषण योजना के रुप में किया आरंभ
Image
बीएसएफ सैक्टर बीकानेर मना रहा गौरवमय 50 वर्ष स्थापना दिवस, सीमा पर तैनात जवानों ने बखूबी फर्ज निभाते हुए बॉर्डर को सुरक्षित रखा
Image