उत्तर पश्चिम रेलवे जोन के चारों मण्डलों के रेलवे स्टेशनों की सुरक्षा चाक चौबंद, 25 अनाधिकृत प्रवेश द्वारों को करवाया बंद




जयपुर, 04 जनवरी (छोटीकाशी डॉट पेज)। उत्तर-पश्चिम रेलवे जोन के चारों मंडल जयपुर, जोधपुर, बीकानेर और अजमेर के रेलवे स्टेशन को सुरक्षा प्लान हेतू चिन्हित कर पूर्ण रुप से सुरक्षित बनाने का कार्य किया गया है जिसमें 25 अनाधिकृत प्रवेश द्वारों को बंद करवा दिया गया है। रेलवे सुरक्षा बल महानिदेशक अरूण कुमार एवं उत्तर पश्चिम रेलवे महाप्रबंधक आनन्द प्रकाश के निर्देशन में यह कार्य किया गया है। उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी लेफ्टिनेंट कर्नल शशि किरण ने सोमवार को बताया कि रेल परिसरों में अनाधिकृत व्यक्तियों द्वारा प्रवेश को रोकने के लिए रेलवे सुरक्षा बल ने विशेष इंतजाम किये है। 1245 लेबर कर्मचारियों के पहचान पत्र संबंधित विभाग द्वारा बनवाया गया है। सभी स्टेशनों पर कार्यरत विभिन्न विभागों के पास आवश्यकतानुसार अग्निशमन यंत्र वॉकी- टॉकी उपलब्ध है। आपदा  प्रबन्धन टीम व सबंधित विभागों के स्टाफ के साथ मिलकर समय- समय पर मॉक ड्रील करवाई जाती है, ताकि तुरन्त प्रभाव से किसी भी प्रकार की आपदा से निपटा जा सके। बीकानेर एवं जोधपुर में इंजीनियरिंग विभाग द्वारा आरसीसी स्लीपरों की अस्थाई दीवार बनाकर अनाधिकृत प्रवेश व निकास स्थानों को बंद किया गया है। अजमेर मंडल में उदयपुर, आबूरोड, भीलवाडा, मारवाड जं., फालना, ब्यावर, बीकानेर मंडल में  श्रीगगांनगर, हिसार, सूरतगढ, लालगढ., हनुमानगढ., भिवानी, सिरसा, जयपुर मंडल में रेवाडी, अलवर, बांदीकुई, गांधी नगर जयपुर, फुलेरा, किशनगढ, ,दुर्गापुरा, सीकर, रींगस तथा जोधपुर मंडल में बाडमेर, पाली-मारवाड, जैसलमेर, भगत की कोठी, मेडता रोड, नागौर, नोखा स्टेषनों का स्टेशन सुरक्षा प्लान तैयार कर यथोचित कार्यवाही की जा रही है। सभी मण्डलों के चिन्हित रेलवे स्टेशनों पर, जहां गाडियों का ठहराव है, भौतिक अधिगम नियन्त्रण उपलब्ध करवाया जा रहा है। यात्री सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए स्टेशनों के मुख्य प्रवेश द्वारों पर डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर, व्हिकल स्कैनर, लगेज स्कैनर आदि अत्याधुनिक उपकरण लगाये गये है, ताकि किसी भी प्रकार का गलत सामान व असामाजिक तत्व स्टेशन पर प्रवेश नही कर पाये। मुख्य स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरा की मॉनीटरिंग के लिए सेन्ट्रलाईज विडीयों सर्विलांस सिस्टम लगाया गया है, जिससे एक ही स्थान से सभी स्टेशनों की निगरानी की जा सके।

Popular posts
माल यातायात को बढावा देने के उद्देश्‍य से मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय में बिजनेस डवलपमेंट यूनिट(बीडीयू) मीटिंग
Image
बीएसएफ के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. घनश्याम दास 31 वर्ष की सेवा के उपरांत सेवानिवृत्त, डीआईजी पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ ने दी शुभकामनाएं
Image
श्रीराम सुपर 111 और 1-एसआर-14 गेहूं बीज राजस्थान के किसानों को दे रहा है बेहतर उत्पादकता !
Image
कैमल इको टूरिज्म को बढ़ावा देने हेतु एनआरसीसी के महत्ती प्रयास, रोशनी युक्त सौन्दर्यकरण बेल आकृति लोकार्पित
Image
बीकानेर में दमखम दिखाने वाले चयनित पावर लिफ्टर खिलाड़ी राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में लेंगे हिस्सा!
Image