आवारा-शिकारी कुत्तों से गौवंश को बचाने के लिए बीकानेर में 'डॉग हाऊस' की मांग पकड़ रही जोर




बीकानेर, 20 दिसम्बर (छोटीकाशी डॉट पेज)। राजस्थान के बीकानेर में शिकारी कुत्तों का आतंक इतना भयंकर विकराल रुप ले रहा है कि अब न केवल गौवंश बल्कि हिरण, छोटे पशु भी उनका शिकार हो रहे हैं। ओर तो ओर कई बार तो अकेले विचरण कर रहे लोगों पर भी ये शिकारी कुत्ते टूट पड़ते हैं। भागीरथ नंदिनी संस्था के अध्यक्ष मिलन गहलोत ने बताया कि समीपवर्ती उपनगर सुजानदेसर-भीनासर शरह नथानिया गोचर भूमि में गोचर भूमि जो लगभग 40 हजार बीघा है वहां बेसहारा गौवंश, अन्य पशुओं के लिए ही है बारिश के दौरान सूखा चरने के लिए गौवंश पहुंचता है लेकिन आवारा शिकारी कुत्ते इन गोचर भूमि में पहुंचकर गोवंश, छोटे बछड़े, वृद्ध गौवंश व हिरण का शिकार रोजाना करते हैं जिसकी जानकारी प्रशासन को भी दी जा चुकी है, लेकिन प्रशासन द्वारा इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा। संस्था द्वारा तत्कालीन कलेक्टर डॉ. पृथ्वीराज के समय शिकायत पर आवारा कुत्तों को पकड़कर जोधपुर के डॉग हाऊस लेकर गए लेकिन वहां ज्यादा कुत्ते होने से मना कर दिया गया। इस सम्बन्ध में भागीरथ नंदनी संस्था ने कई बार जानकारी देते हुए ज्ञापन, प्रदर्शन भी किया है। नगर निगम प्रशासन कुत्तों को एक मोहल्ले से एक वार्ड से लेकर के दूसरे वार्ड में छोड़ देते हैं जिससे आमजन को भी तकलीफों का सामना करना पड़ता है। यदि संभाग मुख्यालय पर डॉग हाउस बना दिया जाए तो इन सब चीजों का इलाज हो सकता है। डॉग हाउस बनाने से इस शहर की गंदगी पर भी नियंत्रण होगा।

Popular posts
राष्ट्रसंत डॉ वसंतविजयजी महाराज साहेब का अवतरण दिवस 5 मार्च को, त्रिदिवसीय श्री पद्मावती कृपा प्राप्ति आराधना-साधना महोत्सव का होगा आगाज
Image
पीबीएम हेल्प कमेटी, जीवन रक्षा, मारवाड़ होस्पिटल के सयुक्त तत्वावधान में रविंद्र रंग मंच मै 19 मार्च को कार्यक्रम
Image
सरकारी स्कूल के वार्षिकोत्सव समारोह में श्रीकोलायत पहुंचे एडीईओ सुनील बोड़ा ने किया छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत
Image
महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुनीता गौड़ के नेतृत्व में महिलाओं ने किया प्रदर्शन
Image
राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर बोले डॉ. पी.एल.सरोज ; विज्ञान एवं कृषि विषयों द्वारा बन सकते हैं वैज्ञानिक
Image